Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लखनऊ: पीएम मोदी की ''विजयदशमी'', बोले- आतंकवाद मानवता का दुश्‍मन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बार उत्तर प्रदेश में दशहरा मनाने के लिए लखनऊ में हैं।

लखनऊ: पीएम मोदी की
लखनऊ. दिल्ली से लेकर लखनऊ तक रावण दहन का कार्यक्रम चल रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बार उत्तर प्रदेश में दशहरा मनाने के लिए लखनऊ में हैं। नरेंद्र मोदी मंगलवार शाम 5:30 बजे लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और गृह मंत्री राजनाथ सिंह प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत किया।
पीएम मोदी ने ऐशबाग रामलीला मैदान में राम-लक्ष्मण और हनुमान को तिलक लगाकर उनकी आरती की। रावण का पुतला मोदी के सामने नहीं जलाया जाएगा। ऐसा सुरक्षा कारणों से किया जा रहा है क्योंकि मैदान छोटा है। प्रधानमंत्री मोदी को गदा, धनुष, रामचरित मानस, पीतल से बना एक सुदर्शन चक्र और रामनामी दुपट्टा भेंट किया गया।
पीएम ने इस दौरान 'जय श्री राम' का नारा देकर अपना संबोधन शुरू किया। उन्होंने विजयदशमी की बधाई दी. उन्होंने कहा कि ऐशबाग रामलीला में आने का मौका मिला। हमें रावण दहन से सबक लेना चाहिए। इस मौके पर राजनाथ सिंह ने कहा कि पीएम मोदी ने भ्रष्टाचार खत्म किया। उन्होंने दुनिया में भारत का मस्तक ऊंचा किया। पीएम ने मजबूत और दमदार भारत बनाया। गृह मंत्री ने कहा कि लखनऊ का होने के नाते मैं एक बार फिर पीएम मोदी का स्वागत करता हूं।
मंच पर पीएम को पगड़ी भी पहनाई गई। नरेंद्र मोदी को तुलसीदास की एक दुर्लभ फोटो भी भेंट की गई। इस फोटो के बारे में कहा जाता है कि इसे शाहजहां ने तुलसीदास को अपने दरबार में बुलाकर उनकी पेंटिंग बनाई थी। ओरिजिनल पेंटिंग काशी महाराज के दरबार में है। पीएम मोदी को जो फोटो दी गई वह इसी की कॉपी है।
पीएम द्वारा कही गई मुख्‍य बातें...
  • बुराइयों को खत्‍म करने की क्षमता ईश्‍वर ने सभी को दी हैं।
  • हमारे अंदर बुरी सोच के रूप में पल रहे रावण को खत्‍म करना है।
  • आतंकवाद मानवता का दुश्‍मन है।
  • प्रभु राम मानवता के उच्‍च मूल्‍य, आदर्शों का प्रतिनिधित्‍व करते हैं।
  • आतंकवाद के खिलाफ सबसे पहले लड़ाई जटायु ने लड़ी थी।
  • 26/11 के हादसे के बाद सारी दुनिया के गले उतर गया कि आतंकवाद कितना खतरा है।
  • आतंकवाद की कोई सीमा और मर्यादा नहीं है।
  • विश्‍व की मानवतावादी शक्तियों का आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होना।
  • आतंकवाद को पनाह देने वालों को जड़ से खत्‍म करने की जरूरत पैदा हुई है।
  • आतंक को पनाह देने वालों को बख्‍शा नहीं जा सकता।
  • आतंकवाद को खत्‍म किए बिना मानवता की रक्षा संभव नहीं।
  • दुराचार, भ्रष्‍टाचार को खत्‍म करने का देश के हर नागरिक को संकल्‍प लेना होगा।
  • गंदगी रूपी रावण से मुक्ति पाकर देश के गरीब परिवार, जो बीमारी और मौत के शिकार हो जाते हैं, हम उन्‍हें बचा सकते हैं।
  • बेटे और बेटी में अंतर कर हम कितनी सीताओं को मौत के घाट उतार देते हैं, हमारे भीतर मौजूद इस रावण को खत्‍म करना जरूरी है।
  • चाहे हम किसी भी समाज, संप्रदाय से क्‍यों न हो, बेटियां समान होनी चाहिए. महिलाओं के अधिकार समान होने चाहिए.
  • धरती का मार्ग युद्ध का नहीं, बुद्ध का है।
  • युद्ध के मैदान में गीता कहने वाले भगवान श्रीकृष्‍ण को हम युगपुरुष मानते हैं।
  • हम युद्ध से बुद्ध की यात्रा वाले लोग हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top