Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नोट बैन: पीएम मोदी ने देर रात बुलाई मीटिंग, जनता को दी राहत

मीटिंग में बैंकों को कम से कम 50 हजार रुपये तक कैश लिमिट बढ़ाने की सलाह दी गई।

नोट बैन: पीएम मोदी ने देर रात बुलाई मीटिंग, जनता को दी राहत
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वरिष्ठ मंत्रियों के साथ रविवार देर रात नोट बैन के मुद्दे पर चर्चा के लिए एक मीटिंग बुलाई। प्रधानमंत्री आवास में आयोजित इस बैठक में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू, बिजली, कोयला और खान मंत्री पीयूष गोयल, आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास और सभी टॉप ऑफिशल मौजूद रहे थे।
जानकारी के मुताबिक नोट बैन करने के बाद पूरे देश में अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है। कैश न होने के कारण लोग एटीएम और बैंको के बहार क़तार में खड़े हुए हैं। इसलिए पीएम मोदी ने अपने आवास पर इस समस्या के लिए तत्काल मीटिंग बुलाई। मीटिंग में देश में नोटबैन के बाद पैसों की कमी की वजह से लोगों में पनप रहे अधैर्य और गुस्से के बारे में चर्चा की गई। पीएम मोदी ने इस मीटिंग में उन स्टैप्स के बारे में विस्तार से बात की जो कैश की सप्लाई को सुधारने के लिए पहले से ही लिए जा चुके हैं।
बैठक में किन बातों पर हुई चर्चा-
बता दें कि पीएम और केंद्रीय मंत्रिमंडल ने लोगों की समस्या को लेकर कई बड़े फैसले लिए और नोट निकलने की तय सीमा से लेकर कुछ अलग से नियम भी जारी किए-
बैंकों को कम से कम 50 हजार रुपये तक कैश लिमिट बढ़ाने की सलाह दी गई।
एटीएमों के रेकैलिब्रेशन की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए रणनीति बनाने को कहा गया जिससे लोग नई मुद्रा को जल्द से जल्द प्राप्त कर सकें।
इस बीच अधिक आबादी वाले क्षेत्रों में और भी अधिक संख्या में माइक्रो एटीएम लगाए जाएंगे।
फिलहाल कुछ जगहों पर 500 और 1000 के पुराने नोट स्वीकार करने की लास्ट डेट 14 नवंबर से 24 नवंबर की मध्यरात्रि तक बढ़ा दी गई है।
बैंकों में सीनियर सिटिजन्स और दिव्यांगों के लिए अलग से लाइन लगाए जाएगी।
उन लोगों की अलग लाइन लगाई जाएगी जो कुछ पुराने नोटों को बदलने के लिए बैंक आए हुए हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
hari bhoomi
Share it
Top