Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

BIMSTEC में बोले पीएम मोदी, भारत के लिए पड़ोसी देश सबसे पहले आते हैं

डिजिटल कनेक्टिविटी के क्षेत्र में, भारत नेपाल, भूटान, बांग्लादेश और श्रीलंका में अपने राष्ट्रीय ज्ञान नेटवर्क को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है।

BIMSTEC में बोले पीएम मोदी, भारत के लिए पड़ोसी देश सबसे पहले आते हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को पड़ोसी देश नेपाल में दो दिवसीय ‘बे ऑफ बंगाल इनीशिएटिव फॉर मल्टी-सेक्टोरल टेक्निकल ऐंड इकॉनमिक को-ऑपरेशन' (बिम्सटेक) की बैठक में हिस्सा लेने पहुंचे हैं।

पीएम मोदी ने बिम्सटेक शिखर सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में को संबोधित करते हुए कहा कि डिजिटल कनेक्टिविटी के क्षेत्र में भारत अपने नेशनल नॉलेज नेटवर्क को श्रीलंका, बांग्लादेश, भूटान और नेपाल में बढ़ाने के लिए पहले से ही प्रतिबद्ध है।

डिजिटल कनेक्टिविटी के क्षेत्र में, भारत नेपाल, भूटान, बांग्लादेश और श्रीलंका में अपने राष्ट्रीय ज्ञान नेटवर्क को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। अगस्त 2020 में भारत अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन की मेजबानी करेगा, मैं सभी बिम्सटेक सदस्य देशों को इस अवसर पर गेस्ट ऑफ हॉनर के रूप में भागीदारी का निमंत्रण देता हूं। सभी बिम्सटेक देश अक्टूबर में दिल्ली में होने वाली मोबाइल कांग्रेस में शामिल होंगे।

यह भी पढ़ें- कर्नाटक में बाढ़-भूस्खलन की वजह से हुए नुकसान की भरपाई के लिए कुमारस्वामी ने राजनाथ सिंह को ज्ञापन सौंपा

पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल की खाड़ी क्षेत्र में कला, संस्कृति, सामुद्रिक कानूनों एवं अन्य विषयों पर शोध के लिए हम नालंदा विश्वविद्यालय में एक Centre for Bay of Bengal Studies की स्थापना भी करेंगे।

हिमालय और बंगाल की खाड़ी से जुड़े हमारे देश, बार-बार प्राकृतिक आपदाओं का सामना करते रहते हैं। कभी बाढ़, कभी साईक्लोन, कभी भूकंप। इस सन्दर्भ में, एक दूसरे के साथ मानवीय सहायता और आपदा राहत के प्रयासों में हमारा सहयोग और समन्वय बहुत आवश्यक है।

Next Story
Top