Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सिंगापुर: NTU में बोले पीएम मोदी, 21वीं सदी हमें एशिया की बनानी है

सिंगापुर में छात्रों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं सदी एशिया की है, हमें हर चुनौती को एक अवसर के रूप में देखना चाहिए।

सिंगापुर: NTU में बोले पीएम मोदी, 21वीं सदी हमें एशिया की बनानी है

सिंगापुर में छात्रों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं सदी एशिया की है, हमें हर चुनौती को एक अवसर के रूप में देखना चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन देशों की अपनी यात्रा के अंतिम चरण के दूसरे दिन सिंगापुर की नानयांग टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी में छात्रों से मिलने पहुंचे। यहां पीएम मोदी ने छात्रों के सवालों के जवाब दिए।

इस कार्यक्रम में पीएम मोदी के अलावा यूनिवर्सिटी के छात्र और प्रोफेसर उपस्थित रहे। छात्रों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं सदी एशिया की है, हमें हर चुनौती को एक अवसर के रूप में देखना चाहिए।

वहीं उन्होंने आगे कहा कि मानव इतिहास में भारत और चीन देशों के लिए ग्लोबल व्यापार किया है। इस वक्त भी हमारे बीच कोई विवाद नहीं है। हमे सोचना चाहिए आगे के रास्तों को कैसे जोड़ा जाए बिना किसी विवाद के।

पीएम ने पिछले दिनों मैं चीन के राष्ट्रपति के साथ था। हम लोगों का कोई एजेंडा नहीं था। हम दोनों ने मैरिटाइम सिक्योरिटी पर अपने सैद्धांतिक विचारों की पुनः पुष्टि की है और रूल्स बेस्ड ऑर्डर के प्रति अपनी प्रतिबद्ध है।

सिंगापुर दौरे के दूसरे दिन पीएम नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति हलीमा याकूब और प्रधानमंत्री ली सिएन लूंग मुलाकात की है। वहीं दोनों देशों के बीच कई समझौते हुए।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली एच. लूंग के साथ मुलाकात कर व्यापार, निवेश, संपर्क साधन, नवोन्मेष और तकनीक के क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर चर्चा की।

वहीं दूसरी तरफ विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सिंगापुर के इस्ताना प्रेसिडेंशियल पैलेस में रस्मी स्वागत किया गया। सदी पुराने इस संबंध को नवोन्मेष और तकनीकी के क्षेत्र में साझेदारी से नयी ऊर्जा मिल रही है।

मोदी अपने तीन राष्ट्रों की यात्रा के तीसरे और अंतिम चरण में सिंगापुर पहुंचे हैं। इससे पहले वह इंडोनेशिया और मलेशिया गये थे।

Next Story
Top