Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बोले पीएम मोदी, पूर्वोत्तर भारत के विकास के लिए आसियान जरूरी

आसियान और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलनों में हिस्सा लेने लाओस जाएंगे पीएम

बोले पीएम मोदी, पूर्वोत्तर भारत के विकास के लिए आसियान जरूरी
नई दिल्ली. जी20 सम्मेलन के वापस लौटे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को लाओस के दौरे पर जाएंगे। बता दें कि पीएम लाओस में आसियान और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलनों में हिस्सा लेने जा रहे हैं। ये दौरा दो दिनों का होगा। जाने से पहले प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत दक्षिण-एशियाई देशों के साथ भौतिक और डिजिटल संपर्क बढ़ाने और आधुनिक एवं एक दूसरे से जुड़ी दुनिया का उपयोग आपसी फायदे के लिए करने का इच्छुक है।
एनबीटी के मुताबिक, यात्रा से पहले अपने बयान में प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी एक्ट-ईस्ट नीति के संदर्भ में आसियान महत्वपूर्ण साझेदार है और यह हमारे उत्तर-पूर्वी क्षेत्र के आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण है। प्रधानमंत्री मोदी 14वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन तथा 11वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए लाओस की राजधानी पहुंच रहे हैं। इस दौरान उनके एजेंडे में नौवहन सुरक्षा, आतंकवाद, आर्थिक एवं सामाजिक-सांस्कृतिक सहयोग जैसे विषय होंगे।
तो वही दूसरी तरफ पीएम मोदी ने अपने एफबी पोस्ट में लिखा कि आसियान के साथ हमारी सामरिक साझेदारी हमारे सुरक्षा हितों और क्षेत्र में पारंपरिक एवं गैर पारंपरिक सुरक्षा चुनौतियों के लिहाज से महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन, एशिया प्रशांत क्षेत्र के समक्ष चुनौतियों एवं अवसरों के बारे में चर्चा करने को प्रमुख मंच है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि दक्षिण पूर्वी एशियाई देशों के साथ भारत के संबंध सही अर्थों में ऐतिहासिक हैं। ''हमारे जुड़ाव एवं पहल को एक शब्द से व्यक्त किया जा सकता है और वह शब्‍द 'कनेक्टिविटी' है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम अपनी भौतिक और डिजिटल कनेक्टिविटी को बढ़ाना चाहते हैं, लोगों के बीच वृहत सम्पर्क बढ़ाने के साथ अपने संस्थागत संबंधों को मजबूती प्रदान करना और एक दूसरे से जुड़ी आधुनिक दुनिया का लाभ हमारे अपने लोगों के साझे फायदे के लिए करना चाहते हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top