Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पूर्वोत्तर के लिए पीएम ने खोला पिटारा, इन बड़ी योजनाओं की घोषणा

पूर्वोत्तर में सड़को और राष्ट्रीय राजमार्गों को सुधारने 90 हजार करोड़ की घोषणा।

पूर्वोत्तर के लिए पीएम ने खोला पिटारा, इन बड़ी योजनाओं की घोषणा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वोत्तर में अगले दो से तीन वर्षों के दौरान सड़कों और राष्ट्रीय राजमार्गों के सुधार के लिए 90 हजार करोड़ रुपए की घोषणा की है।

प्रधानमंत्री ने पश्चिमी मेघालय में तुरा और शिलांग को जोड़ने वाले 271 किलोमीटर के राष्ट्रीय राजमार्ग को राष्ट्र को समर्पित किया। यह राजमार्ग दो लेन का है। प्रधानमंत्री के एक दिन के पूर्वोत्तर दौरे का दूसरा पड़ाव मेघालय था।

इससे पहले वह मिजोरम गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार पूर्वोत्तर राज्यों की राजधानियों को रेल नक्शे पर लाने के लिए प्रतिबद्ध है और इसके मद्देनजर वह क्षेत्र में 15 नई परियोजनाओं को कार्यान्वयन करने जा रही है।

15 रेल लाइनों पर सरकार खर्च करेगी 47 हजार करोड़

प्रधानमंत्री ने अपने मिजोरम दौरे के दौरान कहा कि भारत सरकार 47 हजार करोड़ की लागत से 1385 किलोमीटर लंबाई वाली 15 रेल नई लाइनों का कार्यान्वयन करने जा रही है।

उन्होंने कहा, कि कनेक्टीविटी की कमी पूर्वोत्तर क्षेत्रों के विकास के पथ में बड़ी बाधाओं में से एक है। मोदी ने कहा कि मेरी सरकार आधारभूत सुविधाओं में निवेश के माध्यम से परिवहन द्वारा परिवर्तन करना चाहती है।

इसे भी पढ़ें- पूर्वोत्तर में पीएम: आईजोल पहुंचे PM मोदी, कहा- वादा है, गरीबों को मुफ्त में मिलेगी बिजली

पीएम मोदी ने एक रैली में कहा, अगले दो-तीन वर्षों में विशेष सड़क विकास परियोजना (एसएआरडीपी) के तहत करीब 60,000 करोड़ रुपए का निवेश और भारतमाला के तहत 30,000 करोड़ रुपए का निवेश प्रस्तावित है, ताकि पूर्वोत्तर के राज्यों में राष्ट्रीय राजमार्गों का विकास हो सके।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पूरे पूर्वोत्तर में 32,000 करोड़ रुपए की लागत से 4,000 किलोमीटर के राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण को मंजूरी प्रदान की है।

पिछले तीन साल में बना 1200 किमी राष्ट्रीय राजमार्ग

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में करीब 14,000 करोड़ रुपए की लागत से 1,200 किलोमीटर के राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण किया गया है। पीएम मोदी ने मिजोरम में 60 मेगावाट तुईरियल हाइड्रो इलेक्ट्रिक पावर प्रोजेक्ट (एचईपीपी) का उद्धघाटन किया।

उन्होंने इस परियोजना को लोगों को समर्पित करते हुए कहा कि यह राज्य के सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा देगी। मिजोरम में तुईरियल हाइड्रो इलेक्ट्रिक पावर प्रोजेक्ट केंद्र सरकार की पहली बड़ी सफल परियोजना है।

इसे भी पढ़ें- 'मोदी शो' पर सियासत, कांग्रेस ने कहा- चुनाव आयोग भाजपा की कठपुतली

पीएम मोदी ने कहा कि बिजली के अलावा जलाशय का पानी नेविगेशन के लिए नए रास्ते खोलेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि सिक्किम और त्रिपुरा के बाद मिजोरम पूर्वोत्तर का ऐसा तीसरा राज्य बन गया है जिसके पास अतिरिक्त बिजली है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि वाजपेयी के कार्यकाल के दौरान पूर्वोत्तर के विकास के लिए कई महत्वपूर्ण कार्य किए गए थे। हमने उस दृष्टि को आगे बढ़ाया है और पूर्वोत्तर की प्रगति के लिए संसाधनों को समर्पित किया है। मेरे मंत्रिमंडल के साथी पूर्वोत्तर का निरंतर अंतराल पर दौरा करते रहते हैं।

Loading...
Share it
Top