Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पेट्रोल-डीजल के आग लगाने वाले दाम सुनकर रह जाएंगे हैरान!

पेट्रोल कारोबार से जुड़े सूत्रों के मुताबिक देश में पेट्रोल-डीजल के दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार के हिसाब से तय होते हैं।

पेट्रोल-डीजल के आग लगाने वाले दाम सुनकर रह जाएंगे हैरान!

अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड आइल की कीमत में होने वाल उतार-चढ़ाव के कारण बीते एक साल बाद पेट्रोल-डीजल की कीमत में हुई बढ़ोतरी ने सारे रिकार्ड तोड़ दिए हैं। सोमवार को पेट्रोल 71.68 रुपए तथा डीजल के दाम 66.71 रुपए तक पहुंच गए।

सालभर में पेट्रोल की कीमत में लगभग सात रुपए और डीजल के दाम में भी इतना ही इजाफा हुआ है। पेट्रोल पंप कारोबार से जुड़े लोगों का मानना है कि जब तक अंतरराष्ट्रीय बाजार नियंत्रित नहीं होगा, पेट्रोल के दाम बढ़ते रहेंगे। आने वाले दिनों में भी इसके कम होने के आसार नहीं हैं।
पेट्रोल कारोबार से जुड़े सूत्रों के मुताबिक देश में पेट्रोल-डीजल के दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार के हिसाब से तय होते हैं। क्रूड आइल के दाम के ऊपर-नीचे होने का असर सीधे पेट्रोल और डीजल के दाम को प्रभावित करता है।

सोमवार को राजधानी में पेट्रोल और डीजल के दामों ने पिछले सालभर में ज्यादा दाम के रिकार्ड तोड़ दिया है। पेट्रोल कारोबार से जुड़े सूत्रों के मुताबिक गाड़ी में इस्तेमाल किए जाने वाले दोनों ईंधन की कीमत धीरे-धीरे बढ़ती गई और वाहन चालकों को इसकी भनक तक नहीं लगी कि गाड़ी चलाने के लिए उन्हें लगातार जेब हल्की करनी पड़ रही है।
पेट्रोलियम कंपनी लगभग रोज पेट्रोल-डीजल के दामों में पंद्रह से बीस पैसे की बढ़ोतरी करती चली गई। पेट्रोलियम कंपनी के आंकड़ों पर गौर करें, तो पिछले एक साल में एक बार भी पेट्रोल-डीजल के दाम में कमी नहीं आई। कीमत का ग्राफ ऊपर की ओर चढ़ता ही गया है। विशेषज्ञों का मानना है कि पेट्रोल-डीजल के दाम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तय होता है, इसलिए स्थानीय स्तर पर इसे किसी तरह नियंत्रित नहीं किया जा सकता।
Share it
Top