Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बंगाल-बिहार और यूपी बाढ़ से बेहाल, मरने वालों की संख्या हुई 269

लगातार बारिश होने से बंगाल, बिहार और पूर्वी यूपी के अधिकांश जिलों में पानी भर गया है।

बंगाल-बिहार और यूपी बाढ़ से बेहाल, मरने वालों की संख्या हुई 269

पिछले कई दिनों से लगातार बारिश होने से उत्तर बंगाल, बिहार और पूर्वी यूपी के के अधिकांश जिलों के इलाके में जलमग्न हो गए। इसके साथ नदियों का जलस्तर बढ़ने से अधिकांश जगहों में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई थी।

बंगाल में बीएसएफ ने बांटा भोजन

बाढ़ के कारण उत्तर दिनाजपुर जिले के अधिकांश इलाकों में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है। यहां रायगंज, करणदिघी, कालियागंज, हेमताबाद प्रखंड इलाके में जल का प्रभाव बढ़ गया है।

रायगंज के सिलीगुड़ी मोड़ में कुलीक नदी का जल स्तर बढ़ने से वह पानी राजमार्ग के उपर से गुजर रहा है। सभी प्रखंड में राहत केंद्र खोलने के साथ रेसक्यू आपरेशन जारी है। खिंचड़ी से लेकर लोगों के बीच चुड़ा, पानी की व्यवस्था की जा रही है।

ये भी पढ़ें - पीएम मोदी का फरमान, 5 स्टार होटलों में ना ठहरें मंत्री

जिले के गंगारामपुर में बीएसएफ के 183 नंबर बटालियन की ओर से बाढ़ पीड़ितों को हर प्रकार की मदद की जा रही है। पीड़ितों के लिए स्वास्थ्य शिविर लगाया गया है। उन लोगों को जांच के साथ दवाईया भी बांटी जा रही है।

जिला प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार तीस्ता, तोर्षा, कालजानी, रायडाक, मनसाई सहित 20 छोटी-बड़ी नदियों कूचबिहार जिले से होकर गुजरती है। अधिकांश नदियों भूटान पहाड़ से होकर कूचबिहार होते हुए बांग्लादेश जाती है।

यूपी में बाढ़ से 69 लोगों की मौत

उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में बाढ़ के कारण अब तक 69 लोगों की मौत हो चुकी है और दो लाख हेक्टेयर से अधिक के क्षेत्र में लगी फसल बर्बाद हो गयी है। गोरखपुर और अन्य कई पूर्वी इलाकों में बाढ़ की स्थिति भयावह बनी हुई है, वहीं राज्य के 24 जिलों की करीब 20 लाख की आबादी सैलाब से प्रभावित है।

बिहार में बाढ़ से मरने वालों का आंकड़ा 200 के पार

पटना। बिहार में बाढ़ से मरने वालों की संख्या दौ सौ का आंकड़ा पार कर गई है। बाढ़ से प्रभावित आबादी का आंकड़ा भी करीब एक करोड़ बीस लाख पहुंच गया है। बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग ने आंकड़े जारी किए जिनके मुताबिक बीते चैबीस घंटों में इस आपदा से 49 और लोगों की मौत हो गई।

इसके साथ ही इस साल की बाढ़ से बिहार में मरने वालों की संख्या बढ़कर 202 हो गई है। बीते चैबीस घंटों में सबसे ज्यादा मौतें सीतामढ़ी, अररिया, पश्चिम चंपारण और दरभंगा जिलों में हुईं. सीतामढ़ी में अठारह, अररिया में बारह जबकि पश्चिम चंपारण और दरभंगा में छह-छह लोगों की मौत बाढ़ के चपेट में आने से हुई।

अभी सूबे के आधे से अधिक 20 जिले बाढ़ की चपेट में है. बाढ़ से करीब चैदह हजार मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त हुए हैं। करीब 80 लाख लोग प्रभावित है।

Next Story
Share it
Top