logo
Breaking

आरक्षण पर फंसा है पेंच, अब 7 नवंबर तक हार्दिक करेंगे इंतजार

हार्दिक पटेल ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा का समर्थन नहीं करेंगे।

आरक्षण पर फंसा है पेंच, अब 7 नवंबर तक हार्दिक करेंगे इंतजार

पाटीदारों को आरक्षण के मुद्दे पर हार्दिक पटेल और कांग्रेस के बीच सहमति बनती नजर आ रही है। हालांकि आज अहमदाबाद में पाटीदारों और कांग्रेस के बीच हुई बैठक में आरक्षण देने पर कोई फैसला नहीं हो सका है। लिहाजा पाटीदारों ने कांग्रेस के जवाब की डेडलाइन बढ़ाकर सात नवंबर कर दी है।

बता दें कि बैठक के दौरान पाटीदार नेताओं ने कांग्रेस के सामने अपनी पांच मांगें रखीं। लेकिन कांग्रेस ने चार मांगों पर सहमति जताई, आरक्षण को लेकर पेच फंस गया।

हार्दिक पटेल ने कहा है कि तीन नवंबर को सूरत में होने वाली राहुल गांधी की जनसभा का वह न ही समर्थन करेंगे, न ही विरोध। दो घंटे चली इस बैठक में यह तय हुआ है कि आरक्षण पर दोनों पक्ष कानूनी और तकनीकी सलाह लेंगे उसके बाद ही विचार किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पाटीदार सात नवंबर तक आरक्षण पर कांग्रेस के प्लान का इंतजार करेंगे। इसके बाद हार्दिक ने आगे कहा कि राहुल गांधी खुद इस मामले में बात करना चाहते हैं तो हम जाकर बात करेंगे।

यह भी पढ़ें- कांग्रेस पर गरजना पड़ा भारी, शाह और नकवी के खिलाफ मानहानि की याचिका दायर

बैठक के बाद आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने कहा, 'पाटीदार अमानत आंदोलन समिति ने अपनी बात रखी, हम लीगल एक्सपर्ट्स की राय लेंगे और फिर बात को आगे बढ़ाएंगे।

उधर हार्दिक पटेल ने इस दौरान फिर साफ किया कि वह किसी हाल में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा का समर्थन नहीं करेंगे।

Loading...
Share it
Top