Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नोटबंदी: दोनों सदनों की कार्यवाही चढ़ गई सियासत की भेंट

आनंद शर्मा ने कहा कि देश में अराजकता के लिए सरकार जिम्मेदार है।

नोटबंदी: दोनों सदनों की कार्यवाही चढ़ गई सियासत की भेंट
नई दिल्ली. संसद के शीतकालीन सत्र के पहले सप्ताह की कार्यवाही नोटबंदी की सियासत की भेंट चढ़ गई और शुक्रवार को भी विपक्ष के हंगामे के कारण लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही पटरी पर नहीं आ सकी, जिसके कारण दोनों सदनों की कार्यवाही को सोमवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया। संसद के शीतकालीन सत्र तीसरे दिन भी पहले के दो दिनों से जारी नोटबंदी के शोर नहीं थमा। जबकि सत्र शुरू होने से पहले पीएम मोदी और केंद्र सरकार की हरेक मुद्दे पर चर्चा के भरोसे के साथ मांगे गये सहयोग बेअसर रहा। मसलन नोटबंदी के मुद्दे पर दोनों सदनों में विपक्षी दल सरकार को घेरने का प्रयास ही करते नजर आया। लोकसभा की शुक्रवार को जैसे ही कार्यवाही शुरू हुई तो कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने नोटबंदी के मुद्दे पर नियम 56 के तहत चर्चा कराने के लिए कार्यस्थगन का नोटिस दिया। जबकि संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कार्य स्थगित कराए बिना नियमानुसार चर्चा पर जोर दिया। नोटबंदी पर सदन में पक्ष-विपक्ष आमने सामने होने के कारण हंगामे का माहौल बन गया। इस बीच कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, वामदलों के सदस्य अध्यक्ष के आसन के समीप आकर नारेबाजी कर हंगामा करने लगे तो लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन की कार्यवाही को सोमवार तक के लिए स्थगित कर दिया।
राज्यसभा में नहीं हुआ कामकाज
राज्यसभा में भी नोटबंदी पर सरकार और विपक्ष का गतिरोध बरकरार रहा। विपक्ष के हंगामे के कारण उच्च सदन की कार्यवाही शुरू होने से चार बार स्थगन के बाद दो बजे और फिर 40 मिनट बाद ही सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई। इससे परहले सदन में कांग्रेस के सदस्य नोटबंदी के कारण लोगों की परेशानी के लिए सरकार एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी मांगने की मांग कर रहे थे। जबकि इसके विपरीत भाजपा के सदस्य चर्चा के दौरान विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद द्वारा की गई एक टिप्पणी को लेकर कांग्रेस से माफी मांगने की मांग करते दिखे। दोनों पक्षों के अपनी अपनी मांगों पर अड़े रहने से सदन में शुक्रवार राज्यसभा में प्रश्नकाल और शून्यकाल तक नहीं हो सके। यही नहीं शुक्रवार होने के नाते भोजनावकाश के बाद गैरसरकारी कामकाज भी इसी हंगामे की भेंट चढ़ गया। इससे पहले सुबह बैठक शुरू होने पर उपसभापति पी जे कुरियन ने आवश्यक दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाए। इसके बाद उन्होंने शून्यकाल के तहत मुद्दे उठाने के लिए कहा, लेकिन अन्नाद्रमुक सदस्य कावेरी नदी के पानी का मुद्दा उठाते हुए आसन के समक्ष आ कर नारे लगाने लगे, तो वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने नोटबंदी के मुद्दे को उठाते हुए आरोप लगाया कि देश में उत्पन्न अराजक एवं अफरातफरी की स्थिति के लिए सरकार जिम्मेदार है।
लोकसभा में खिलाड़ियों को बधाई
लोकसभा ने ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों में पदक विजेताओें, पैरालम्पिक खेलों के पदक विजेताओं, विश्व कप कब्बडी जीतने वाली भारतीय टीम, एशियाई चैम्पियन्स ट्राफी जीतने वाली भारत की पुरूष एवं महिला टीमों को बधाई दी। सदन ने ओलंपिक खेलों में रजत पदक जीतने के लिए पीवी सिंधु और कांस्य पदक जीतने के लिए साक्षी मलिक को बधाई दी। वहीं सदस्यों ने रियो डि जेनरियो में ग्रीष्मकालीन पैरालम्पिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के लिए मरियप्पन थांगावेलू और देवेन्द्र झाझारिया को, रजत पदक जीतने दीपा मलिक को, कांस्य पदक जीतने के लिए वरूण सिंह भाटी को बधाई देती है। जबकि अहमदाबाद में आयोजित कबड्डी विश्व कप 2016 के फाइनल मुकाबले में ईरान को हराकर कबड्डी में विश्व विजेता बने भारत की टीम की पीठ थपथपाई। वहीं पुरूष टीम ने कुआंतन मलेशिया में एशियाई चैम्पियन्स ट्राफी के फाइनल में पाकिस्तान को हराकर प्रतियोगिता जीतने पर भी खुशी जताई गई। इसी प्रकार महिला हाकी टीम के सिंगापुर में एशियाई चैम्पियन्स ट्राफी के फानइल मुकाबले में चीन को हराकर विजेता बनने पर बधाई दी गई। इसके अलावा 8 वर्षीय ताजामुल इस्लाम ने इटली के आंद्रिया में विश्व किक बाक्सिंग चैम्पिनशिप में स्पर्ण पदक जीतने को भारत के लिए इतिहास करार दिया गया।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top