Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पाकिस्तान की सबसे ऊंची चोटी ने पोलैंड के पर्वतारोही की ली जान

दुनिया की सबसे ऊंचे पर्वतों में से एक नंगा पर्वत पर बचाव अभियान खत्म करने के बाद पोलैंड के एक पर्वतारोही को मृत मान लिया गया है।

पाकिस्तान की सबसे ऊंची चोटी ने पोलैंड के पर्वतारोही की ली जान

दुनिया की सबसे ऊंचे पर्वतों में से एक नंगा पर्वत पर बचाव अभियान खत्म करने के बाद पोलैंड के एक पर्वतारोही को मृत मान लिया गया है।

पाकिस्तान के गिलगित बालटिस्तान क्षेत्र में स्थित 8,126 मीटर ऊंची हिमालयी चोटी पर पोलैंड के तोमास्ज मैकेविकज और फ्रांस की एलिजाबेथे रिवोल चढ़ने की कोशिश कर रही थीं। इस पर्वत को पर्वतारोही समुदाय में कातिल पहाड़ माना जाता है।

ये भी पढ़ें- गणतंत्र दिवस पर मध्यप्रदेश में फहराए गए काले और पाकिस्तानी झंडें, मचा हड़कंप

दोनों ने गुरूवार को संदेश भेजा था कि वे 7,500 मीटर की ऊंचाई पर जमा देने वाले तापमान में कथित रूप से फंस गए हैं जिसके बाद से वे लापता थे। पोलैंड और फ्रांस के दूतावासों के अनुरोध पर पाकिस्तानी सेना के दो हेलीकॉप्टरों ने कल अभियान शुरू किया था।

‘पाकिस्तान अल्पाइन फेडरेशन' के वरिष्ठ अधिकारी हरार हैदरी ने बताया कि पोलैंड के चार स्वयंसेवियों को नंगा पर्वत क्षेत्र में उस स्थान पर ले जाया गया जहां दोनों पर्वतारोही फंसे हुए थे। हैदरी ने बताया कि वे एलिजाबेथे रिवोल को ही बचा पाए लेकिन तोमास्ज मैकेविकज तक नहीं पहुंच सके।

ये भी पढ़ें- वीडियोः गणतंत्र दिवस पर लंदन में भिड़े भारतीय-पाकिस्तानी, लगे मोदी और वंदे मातरम के नारे

बाद में हैदरी ने बताया कि मैकेविकज को मृत मान लिया गया है।
उन्होंने बताया कि बचावकर्ता शव को 7,400 मीटर की ऊंचाई पर छोड़ आए क्योंकि वे इसे नीचे नहीं ला सकते थे।
Next Story
Top