Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चीन में कैद है सैंकड़ों पाकिस्तानियों की पत्नियां, वापसी के लिए पति लगा रहे हैं गुहार

पाकिस्तान के कई पुरुष चीन में फंसी अपनी पत्नियों को वापस लाने के लिए एडी चोंटी का जोर लगा रहे हैं। पाकिस्तान में नई सरकार बनने के बाद इन पुरुषों की उम्मीदें बढ़ गई हैं।

चीन में कैद है सैंकड़ों पाकिस्तानियों की पत्नियां, वापसी के लिए पति लगा रहे हैं गुहार

पाकिस्तान के कई पुरुष चीन में फंसी अपनी पत्नियों को वापस लाने के लिए एडी-चोंटी का जोर लगा रहे हैं। पाकिस्तान में नई सरकार बनने के बाद इन पुरुषों की उम्मीदें और बढ़ गई हैं।

हालांकि की पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने अभी तक इन पुरुषों के लिए कुछ खास नहीं किया हैं। लेकिन फिर भी पाकिस्तान के इन पुरुषों को उम्मीद हैं कि इमरान सरकार अपने कूटनीतिक संबंधका इस्तेमाल कर के उनकी पत्नियों को वापस लाने में मदद करेगी।

इसे भी पढ़ें- हिमाचल प्रदेश: वायुसेना का मिशन एयरलिफ्ट, 3 बच्चों और 10 महिलाओं को किया रेस्क्यू

ये है पूरा मामला-

संयुक्त राष्ट्रसंघ की मानवाधिकार संस्था द्वारा जारी एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ हैं कि चीन में उइगर समुदाय के मुसलमानों के ऊपर कई तरह की पाबंदियां लगाईं गई हैं।

रिपोर्ट में ये भी खुलासा किया गया हैं कि चीन की सरकार और सेना इनका ब्रेन वाश कर रही हैं और उन्हें वहां की नीतियों के बारे में समझा रही हैं।

पाकिस्तान के कई पुरुषों की शादी उइगर समुदाय की मुसलमान महिलाओं से हुई हैं। लेकिन चीन अब उनकी पत्नियों को वापस नहीं आने दे रहा हैं।

बताया जा रहा हैं कि चीनी सैनिकों ने उन महिलाओं और बच्चों के पासपोर्ट छिन लिए हैं और उन्हें री एजुकेट किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें- अयोध्या विवाद: इस्माइल फारूकी का इस केस से क्या है संबंध, जानें 5 अहम बातें

कौन हैं उइगर मुसलमान-

इस्लाम को मानने वाले उइगर समुदाय के लोग चीन के सबसे बड़े और पश्चिमी क्षेत्र शिंजियांग प्रांत में रहते हैं। इसकी सीमा मंगोलिया और रूस सहित आठ देशों के साथ मिलती है।

उइगर मुसलमान तुर्क के रहने वाले है। लेकिन यहां इनकी आबादी एक करोड़ से ऊपर है। इस क्षेत्र में उनकी आबादी बहुसंख्यक थी। लेकिन जब से इस क्षेत्र में चीनी समुदाय हान की संख्या बढ़ी है और सेना की तैनाती हुई है तब से यह स्थिति बदल गई है।

Share it
Top