Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पाकिस्तानी बच्ची को मिला दिल्ली के स्कूल में दाखिला

विदेश मंत्री की पहल लाई रंग, दस्तावेज के अभाव में थी परेशान।

पाकिस्तानी बच्ची को मिला दिल्ली के स्कूल में दाखिला
X
नई दिल्ली. पाकिस्तान से पलायन कर भारत आई मधु को आखिरकार महीनों की जद्दोजहद के बाद दिल्ली के स्कूल में दाखिला मिल ही गया। दस्तावेजों के अभाव में स्कूलों का चक्कर काट रही मधु को परेशान होकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से गुहार लगानी पड़ी।
करीब सोलह साल की मधु की गुहार सुनने के बाद सुषमा स्वराज ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से संपर्क साधा। उनके निवेदन पर मुख्यमंत्री ने तुरंत उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया को लड़की के दाखिले की व्यवस्था के आदेश दिए।
मुख्यमंत्री के आदेश पर शिक्षा विभाग ने नियमों में ढील देते हुए मधु को दाखिला देने का निर्णय किया। दरअसल पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में धार्मिक उत्पीड़न से बचने के लिए करीब दो साल पहले मधु अपनी मां, भाई-बहन, चाचा और चचेरे भाई-बहन के साथ पाकिस्तान से भागकर भारत आ गई थी। दिल्ली के संजय कालोनी के नजदीक स्थित उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में चक्कर काटने के बाद भी उसे दाखिला नहीं मिला।
स्कूल प्रशासन दाखिले के लिए पूर्व के स्कूल से संबंधित दस्तावेज मांग रहे थे जो उसके पास नहीं था। इस संबंध में उसने मुख्यमंत्री को कई बार पत्र भी लिखा, लेकिन दाखिला नहीं मिल पाया।
दाखिला देना हमारा कर्तव्य
उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि लड़की के अनुरोध पर विशेष परिस्थितियों में दाखिला दिया जाएगा। लड़की के पास टीसी सहित अन्य दस्तावेज नहीं है। वह पढ़ना चाहती है और मानवता के आधार पर मेरा मानना है कि हमें उसके लिए नियमों से परे जाने की जरूरत है। वहीं शिक्षा विभाग के अधिकारी ने बताया कि संजय कालोनी, भाटी माइन्स, फतेहपुर बेरी, नई दिल्ली इन चार स्थानों में से किसी भी जगह सरकारी स्कूलों में मधु को तत्काल दाखिला दिया जा सकता है। साथ ही आवश्यक किताबें और यूनिफार्म भी उपलब्ध करवाई जाएंगी। उसकी योग्यता को देखते हुए उसे कक्षा नौवीं में दाखिला दिया जाएगा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top