Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

PTI नेता आयशा गुलालई पर महिलाओं ने बरसाए अण्डे और टमाटर

इस बार इसका शिकार पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ की नेता आयिशा गुलालाई बनी है। आयशा गुलालई पर पाकिस्तान के बहावलपुर में उनके होटल के बाहर कुछ महिलाओं ने अण्डे और टमाटर फेंके।

PTI नेता आयशा गुलालई पर महिलाओं ने बरसाए अण्डे और टमाटर
पाकिस्तान में नेताओ पर जूते फेंकने का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बार इसका शिकार पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ की नेता आयिशा गुलालाई बनी है। आयशा गुलालई पर पाकिस्तान के बहावलपुर में उनके होटल के बाहर कुछ महिलाओं ने अण्डे और टमाटर फेंके।
मीडिया रिपोर्टस् के मुताबिक आयशा पर यह हमला शुक्रवार को पाकिस्तान के बहावलपुर में उनके होटल के बाहर हुआ। जब उन पर पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी के अध्यक्ष इमरान खान की पार्टी के महिला कार्यकर्ताओं उन अण्डे और टमाटर फेंके और उनके खिलाफ नारेबाजी भी की।
पाकिस्तान में पिछले कुछ दिनों में ही पहले हीपूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर 11 मार्च को एक रैली के दौरान एक आदमी ने उन पर जूता फेंका था। यहीं नहीं पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ के मुंह पर एक आदमी ने स्याही फेंकी थी। इनके इलावा पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के अध्यक्ष इमरान खान भी जूता कांड का शिकार हो चुके है।
बता दे कि आयशा सूबा बहावलपुर बहाली तारीक द्वारा आयोजित एक क्रार्यक्रम में शामिल होने के लिए आई हुई थी। आयशा ने कहा तहरीक-ए-इंसाफ के कार्यकर्ताओं के द्वारा उनके खिलाफ़ नारेबाजी को बुरा नहीं मानती और उन्होंने वहां उनके खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं को अपनी बहन मानती है।
आपको बता दे के आयशा गुलालई इमरान खान की तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के पूर्व नेता है। आयशा ने पार्टी अध्यक्ष इमरान खान पर उत्पीड़न और भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया था।
आपको बता दे कि आयशा ने अगस्त 2017 में तारेके इंसाफ पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। आयशा ने पार्टी अध्यक्ष इमरान खान पर अक्टूबर 2003 में उन्हें अश्लील मैसेज भेजने का आरोप लगाया था। आयशा ने पार्टी पर महिलाओं की सुरक्षा व सम्मान का भरोसा नहीं देने का आरोप लगाया था ओर नेशनल एसेमबली सीट से इस्तीफा देने से इंकार कर दिया था।
आपको बता दे कि आयशा गुलालई ने साल 2012 में तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी का हिस्सा बनी थी ओर पिछले साल तक तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के सेंट्रल कमैटी की सदस्य थी। आयशा ने इसी साल फरवरी में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ नाम से अपनी खुद की पार्टी बनाई थी।
Next Story
Top