Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पाकिस्तान: नेशनल एवं प्रांतीय असेंबली की 35 सीटों पर उपचुनाव जारी, 600 प्रत्याशी हैं मैदान में

पाकिस्तान में नेशनल और प्रांतीय असेंबली की 35 सीटों पर उपचुनाव के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच रविवार को मतदान शुरू हुआ।

पाकिस्तान: नेशनल एवं प्रांतीय असेंबली की 35 सीटों पर उपचुनाव जारी, 600 प्रत्याशी हैं मैदान में

पाकिस्तान में नेशनल और प्रांतीय असेंबली की 35 सीटों पर उपचुनाव के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच रविवार को मतदान शुरू हुआ। इन सीटों पर 600 से अधिक प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें से कुछ कद्दावर नेता भी शामिल हैं।

मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ और यह शाम पांच बजे तक जारी रहेगा। मतदान समाप्त होने के तुरंत बाद मतगणना शुरू होगी और सभी मतदान केन्द्रों का परिणाम मौके पर ही घोषित कर दिया जाएगा।

हालांकि, चुनाव अधिकारी एक साथ परिणामों की घोषणा करेंगे। 50 लाख से अधिक पंजीकृत मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे जिसमें 23 लाख से अधिक महिलाएं और करीब 27 लाख पुरुष शामिल हैं।

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश चुनाव 2018: भोपाल में घरों के आगे लगे पोस्टर, लिखा- वोट मांगकर शर्मिंदा ना करें

उपचुनाव में पहली बार विदेश में रहने वाले पाकिस्तानी भी अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। पंजाब में नेशनल असेंबली की नौ सीटों जबकि सिंध और खैबर पख्तूनख्वा में एक-एक सीट के लिये उप चुनाव हो रहे हैं।

वहीं, प्रांतीय असेंबली की 24 सीटों के लिये उपचुनाव हो रहे हैं जिसमें से पंजाब में 11, खैबर पख्तूनख्वा में नौ, सिंध एवं बलूचिस्तान में दो-दो सीटों पर उपचुनाव के लिये मतदान हो रहे हैं।

उपचुनाव वाले इन सीटों में से ज्यादातर वो सीटें हैं जो 25 जुलाई को हुए आम चुनावों में एक से अधिक सीट से जीतने वाले प्रत्याशियों ने खाली कर दी थी। प्रधानमंत्री इमरान खान ने पांच सीटों पर जीत हासिल की थी और बाद में उनमें से चार सीटें खाली कर दी थीं।

यह भी पढ़ें- विदेश दौरे से दिल्ली लौटकर बोले एमजे अकबर- आरोपों पर बाद में बयान जारी करूंगा

7,489 मतदान केन्द्रों पर सुरक्षा मुहैया कराने के लिए हजारों जवानों को तैनात किया गया है। शुक्रवार को जवानों की तैनाती शुरू हुई थी और वे 15 अक्टूबर तक चुनाव ड्यूटी पर तैनात रहेंगे।

चुनाव आयोग ने 1,727 मतदान केन्द्रों को अति संवेदनशील बताया है जहां अतिरिक्त जवानों और सुरक्षा कैमरों को लगाया गया है। इसमें पंजाब के 848 मतदान केन्द्र, खैबर पख्तूनख्वा (केपी) के 544, सिंध के 201 और बलूचिस्तान के 134 मतदान केन्द्र शामिल हैं।

किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए मतदान केन्द्रों के भीतर और बाहर जवानों को तैनात किया गया है।

Next Story
Top