Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सर्जिकल स्ट्राइक पर बोला पाकिस्तान, बार- बार झूठ बोलने से झूठ सच में तब्दील नहीं होता

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर 2016 में भारत की ओर से की गई सर्जिकल स्ट्राइक से जुड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को आज ''गलत और आधारहीन'' करार देते हुए कहा कि बार- बार झूठ बोलने से वह झूठ सच में तब्दील नहीं हो जाता।

सर्जिकल स्ट्राइक पर बोला पाकिस्तान, बार- बार झूठ बोलने से झूठ सच में तब्दील नहीं होता

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर 2016 में भारत की ओर से की गई सर्जिकल स्ट्राइक से जुड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को आज 'गलत और आधारहीन' करार देते हुए कहा कि बार- बार झूठ बोलने से वह झूठ सच में तब्दील नहीं हो जाता।

लंदन में भारत की बात, सबके साथ कार्यक्रम के दौरान मोदी ने कल कहा था कि भारत ने इस सैन्य अभियान के बारे में पहले पाकिस्तान को सूचित किया और फिर मीडिया एवं लोगों को बताया।

यह भी पढ़ें- जज लोया केस पर बोले रविशंकर प्रसाद- राहुल गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए

उन्होंने कहा कि मैंने कहा कि इससे पहले कि भारत को पता चले, हमें पाकिस्तान को फोन करके बता देना चाहिए। हम उन्हें सुबह 11 बजे से ही फोन कर रहे थे लेकिन वे फोन पर आने से भी डर रहे थे। 12 बजे हमने उनसे बात की और उसके बाद भारतीय मीडिया को बताया।

प्रधानमंत्री मोदी के बयान पर पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने आज कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक का भारत का दावा गलत और आधारहीन है। समाचार पत्र 'डॉन' के अनुसार प्रवक्ता ने कहा कि बार बार झूठ बोलने से वह झूठ सच में तब्दील नहीं हो जाता।

यह भी पढ़ें- राजस्थान: बीकानेर में ED ने ज़मीन पर लगाया बोर्ड, बढ़ सकती हैं रॉबर्ट वाड्रा की मुश्किलें

पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद का निर्यात करने संबंधी मोदी की टिप्पणी पर फैसल ने दावा किया कि यह मामला उलटा है । प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान में भारत आतंकवादियों का सहयोग कर रहा है।

उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जासूस कुलभूषण जाधव भारत सरकार द्वारा प्रायोजित आतंकवाद का सबूत है। कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जासूसी और आतंकवाद के आरोपों में पिछले वर्ष अप्रैल में मौत की सजा सुनाई थी।

पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा 47 वर्षीय जाधव को पिछले वर्ष मई में मौत की सजा सुनाए जाने के बाद भारत ने हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय अदालत आईसीजे का दरवाजा खटखटाया था।

आईसीजे ने उनकी सजा की तामील पर रोक लगा दी थी। भारत का कहना है कि जाधव को ईरान से बंधक बनाकर पाकिस्तान ले जाया गया।

इनपुट भाषा

Next Story
Top