Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अफगानिस्तान की मदद में रूकावट बना हुआ है पाक: भारत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत दौरे पर आए अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से मुलाकात की।

अफगानिस्तान की मदद में रूकावट बना हुआ है पाक: भारत
नई दिल्ली. भारत ने अफगानिस्तान की मदद में पाकिस्तान के सहयोग न करने पर सवाल खड़े किए हैं। आतंकवाद के मसले पर भी भारत और अफगानिस्तान ने पाक का नाम लिए बिना कहा है कि राजनीतिक मकसद के लिए आतंकवाद का इस्तेमाल चिंताजनक है। मुलाकात में दोनों देशों ने पाकिस्तान पर आतंकवाद फैलाने का आरोप लगाया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत दौरे पर आए अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से मुलाकात की। विदेश सचिव एस. जयशंकर ने बताया कि दोनों नेताओं की मुलाकात में काफी गरमाहट रही। गौरतलब है कि दो साल पहले जब गनी राष्ट्रपति बने थे, तब उन्होंने पाकिस्तान के करीब जाने की कोशिश की थी, जिससे यहां राजनायिक हलकों में चिंता हो गई थी।
जयशंकर ने बताया कि दोनों नेताओं ने आतंकवाद से मुकाबला करने और रक्षा सहयोग मजबूत करने पर अपना संकल्प जताया। गौरतलब है कि अफगानिस्तान को हथियारों की मदद के मामले में भारत ने पाकिस्तान के भड़कने के रुख को देखते हुए अब तक संयम बरता है। लेकिन पिछले साल दिसंबर में 4 अटैक हेलिकॉप्टर देने का ऐलान किया गया था। बिगड़ते सुरक्षा हालात के मद्देनजर अफगानिस्तान सरकार ने और मदद की जरूरत बताई थी।
दोनों देशों ने प्रत्यर्पण संधि पर भी साइन किए हैं। भारत ने अफगानिस्तान को 1 अरब डॉलर का अतिरिक्त सहयोग देने का फैसला किया है। विदेश सचिव ने बताया कि पाकिस्तान ने भारत के इस अनुरोध पर चुप्पी साध ली है कि अफगानिस्तान में खाद्यान की कमी के मद्देनजर उसे 1.7 लाख टन गेहूं पहुंचाने की इजाजत दी जाए।
दोनों देशों ने कारोबारी रूट की समस्याओं पर भी विचार किया। पाकिस्तान से ट्रेड ट्रांजिट के विवाद पर अफगान प्रेजिडेंट अशरफ गनी ने भारत आने से पहले कहा था कि अगर पाकिस्तान हमें वाघा बॉर्डर से भारत के साथ ट्रेड करने से रोकता है तो हम उसके लिए सेंट्रल एशिया के रास्ते रोक देंगे।
उधर, भारत ने यूएन में पहली बार बलूचिस्तान का मुद्दा उठाया है। उसने कहा है कि पाकिस्तान वहां और अपने कब्जे वाले कश्मीर में मानवाधिकारों का उल्लंघन कर रहा है। यूएन ह्यूमन राइट्स काउंसिल के जिनीवा में जारी सेशन में भारत ने बुधवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में जारी हिंसा में पाकिस्तान की ओर से चलाए जा रहे आतंकवाद ने आग में घी का काम किया है। यहां विदेश मंत्रालय ने बताया कि भारत ने कहा है कि पाकिस्तान अपने नागरिकों पर हवाई हमले करता है और आतंकवादियों को अपने यहां शरण देता है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top