Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पाकिस्तान चुनाव रिजल्ट: आतंकी हाफिज की हार पर संसद के बाहर बोले कई मंत्री, आवाम ने नहीं दिया साथ

आतंकी हाफिज सईद की पार्टी अल्लाह-ओ-अकबर तहरीक (एएटी) के सभी उम्मीदवार चुनाव हार गए। पाकिस्तान चुनाव में हाफिज के साथ-साथ उसके बेटे- दामाद को करारी हार मिली है। इस हार के बाद हाफिज सईद को उसकी औकात समझ में आ गई है।

पाकिस्तान चुनाव रिजल्ट: आतंकी हाफिज की हार पर संसद के बाहर बोले कई मंत्री, आवाम ने नहीं दिया साथ

आतंकी हाफिज सईद का खौफनाक चेहरा भारत कैसे भूल सकता है। मुंबई का हमलवार और भारत को धमकी देने वाले हाफिज सईद को आखिरकार पाकिस्तान की अवाम ने भी नकार दिया है। यही लोकतंत्र है, अलोकतांत्रिक हाफिज को लोकतंत्र ने करारा चोट दिया है।

आतंकी हाफिज सईद की पार्टी अल्लाह-ओ-अकबर तहरीक (एएटी) के सभी उम्मीदवार चुनाव हार गए। पाकिस्तान चुनाव में हाफिज के साथ-साथ उसके बेटे- दामाद को करारी हार मिली है। इस हार के बाद हाफिज सईद को उसकी औकात समझ में आ गई है।

इसे भी पढ़ें- पीएम मोदी ने कारगिल शहीदों को दी श्रध्दांजलि, सैनिकों को दी शुभकामनाएं

हाफिज की हार लोकतंत्र की जीत का संदेश है। हाफिज की हार ने भारत के कारगिल विजय के जश्न को और भी दोगुना कर दिया। भले ही हम इमरान खान की जीत का समर्थन ना करें लेकिन हाफिज की हार पर पूरा भारत खुश है। इसकी गूंज संसद से लेकर सड़कों तक दिखी।

केंद्रीय मंत्री हंसराज अहिर ने कहा कि पाकिस्तान की जनता ने हाफिज सईद की चुनाव जीतने में मदद नहीं की, हम उम्मीद करते है कि चुनी गई सरकार के साथ हमारे अच्छे संबंध स्थापित होंगे, सबसे अच्छी बात ये है कि लोगों ने आतंक के खिलाफ वोट दिए हैं।

केंद्रीय मंत्री आरके सिंह ने कहा कि मुझे कोई बदलाव नहीं दिख रहा है क्योंकि जहां तक ​​भारत का संबंध है, उनके द्वारा आतंकवाद के निर्यात जैसे महत्वपूर्ण मामलों में बदलाव नहीं होगा। सेना इस नीति का फैसला करने के लिए करती आ रही हैऔर वे अब भी ऐसा करेंगे।

सोशल मीडिया पर मोनी ने लिखा कि आज पूरी दुनिया के सामने भारतीय मीडिया के झूठ की पोल खुल गई जिस हाफिज सईद को पाकिस्तानी मुसलमानों का हीरो बताया उन्हीं मुसलमानों ने हाफिज को सीट देना तो दूर की बात किसी सीट पर जमानत तक बचाने के क़ाबिल नही छोड़ा।

इस पर दिल्ली के लोगों ने कहा कि पाकिस्तान आतंकी हरकतों से बाज नहीं आएगा लेकिन आतंकी हाफिज को हरा कर पाक की जनता ने लोकतंत्र का संदेश दिया है। इससे साफ पता चलता है कि लोग आतंकी को लोकतंत्र की गद्दी पर नहीं बिठाना चाहते हैं।

बता दें कि पाकिस्तान चुनाव में इमरान खान की पार्टी को सबसे ज्यादा सीट और नवाज शरीफ की पार्टी दुसरे नंबर पर है। यह तो साफ हो चुका है कि पाकिस्तान के अगले प्रधानमंत्री इमरान खान बनेंगे। जल्द ही वे शपथ ले सकते हैं।

Next Story
Top