Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव पर लगाए कई नए संगीन आरोप, भारत में मची खलबली

पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव पर लगाए कई नए संगीन आरोप, भारत में मची खलबली पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव पर लगाए कई नए संगीन आरोप, भारत में मची खलबली भारत पाकिस्तान सीमा पर विवादों के बीच पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव पर कई झूठे आरोप लगाए हैं।

पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव पर लगाए कई नए संगीन आरोप, भारत में मची खलबली

भारत पाकिस्तान सीमा पर विवादों के बीच पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव पर कई संगीन झूठे आरोप लगाए हैं, जिसके बाद दोनों देशों में राजनीति गरमा गई है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने जासूसी के झूठे आरोप में भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को मौत की सजा सुनाई थी। जिसके बाद भारत कि तरफ से जाधव के वकील ने मर्सी पिटीशन दायर की थी, जिस पर जाधव के वकील ने मर्सी पिटीशन दायर लेना है। इसी बीच पाकिस्तान ने जाधव पर आतंकवाद समेत कई और झूठे आरोप लगाए हैं।

माना जा रहा है कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आइसीजे) में जाधव हूए मामले पर हुई किरकिरी के बाद पाकिस्तान ने यह चाल चली है। पिछले साल अप्रैल में पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने जाधव को मौत की सजा सुनाई थी। झूठे आरोप में जाधव पर आतंकवाद और कई विध्वंसक गतिविधियों में शामिल रहने का संगीन आरोप तय किए गया है।

पाकिस्तान ने भारत पर यह आरोप लगाते हुए कहा है कि जो 13 अधिकारी जाधव को निर्देश दे रहे थे, उन 13 अन्य अधिकारियों तक पहुंच की मांग की थी। जिस पर भारत कि तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि हम जाधव के संचालकों तक पहुंचना चाहते हैं। पाकिस्तान के इस बयान को भारत ने सिरे से खारिज़ किया है।

पाकिस्तान ने दावा किया था कि उसके सुरक्षा बलों ने जाधव को बलूचिस्तान प्रांत में तीन मार्च, 2016 को उस वक्त गिरफ्तार कर लिया था। जब वह ईरान के रास्ते से पाकिस्तान में घुसे थे। पाकिस्तान ने जाधव को भारत का जासूस बताया था। लेकिन भारत ने जाधव के खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों को बेबुनियादी बताते हुए कहा कि पाकिस्तान ने जाधव का ईरान से अपहरण किया था।

वहीं पाकिस्तानी सैन्य अदालत के इस फैसले के खिलाफ भारत पिछले साल मई में आईसीजे गया था। आइसीजे ने भारत की अपील पर इस मामले में अंतिम फैसला आने तक जाधव की मौत की सजा को टाल दिया था। पाकिस्तान के डॉन अखबार ने एक अधिकारी के हवाले से ये खब़र है कि 47 वर्षीय जाधव के खिलाफ अब कई और मुकदमे चलाए जा रहे हैं।

पाकिस्तान ने जाधव की नौसना से जुड़ी फाइलें, पेंशन भुगतान के बैंक रिकॉर्ड और मुबारक हुसैन पटेल के नाम का पासपोर्ट बरामद किया है। पाकिस्तानी अधिकारी जानना चाहते हैं कि कैसे पेटल के नाम पासपोर्ट से पासपोर्ट जारी किया जा सकता है।

पाकिस्तान के 'डॉन अखबार' में कहा गया कि मुंबई, पुणे और महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों में जाधव के संपत्तियों के विवरण, जिन्हें उन्होंने पटेल के नाम से हासिल कर लिया था, उनकी भी जानकारी मांगी गई थी। अंतर्राष्ट्रीय अदालत फिलहाल भारत की याचिका पर कथित जासूसी मामले में सुनवाई कर रहा है।

पाकिस्तान ने दावा किया है कि जाधव को आतंकी और जासूसी गतिविधियों में शामिल होने के चलते गिरफ्तार किया गया। जाधव कथित रूप से ईरान से बलूचिस्तान में घुसपैठ करते हुए बंधी बनाया गया। जबकि भारत हमेशा से ही इस आरोप का खंडन करता हुआ आया है। भारत का कहना है कि कुलभूषण जाधव को ईरान से अगवा किया गया था। भारतीय सेना में होने के बाद जाधव अपने कारोबार के संबंध में ईरान गए हुए थे।

Next Story
Top