Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

महमूद अख्तर का खुलासा, पाक उच्चायोग में हैं 16 और जासूस

भारत सरकार ने जासूसी के आरोप में पकड़े गए अख्तर को देश से निष्कासित कर दिया है।

महमूद अख्तर का खुलासा, पाक उच्चायोग में हैं 16 और जासूस
नई दिल्ली. भारत में जासूसी प्रकरण में पकड़ा गया पाकिस्तानी उच्चायोग का निष्कासित कर्मचारी महमूद अख्तर ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। अख्तर ने पाक उच्चायोग में 16 और ऐसे कर्मचारियों के नाम बताएं हैं जो कथित तौर पर भारत में पाक के लिए जासूसी में शामिल हैं।
पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि पुलिस और खुफिया एजेंसियों की पूछताछ में अख्तर ने खुलासा किया कि पाकिस्तान उच्चायोग के 16 अन्य कर्मचारी सेना और बीएसएफ की तैनाती के बारे गुप्त सूचना एकत्र करने वाले जासूसों के संपर्क में थे। गौरतलब है कि भारत सरकार ने जासूसी के आरोप में पकड़े गए अख्तर को देश से निष्कासित कर दिया है।
अधिकारी ने बताया कि अभी मामले की आगे जांच की जा रही है और अगर यह सच पाया जाता है तो आगे की कार्रवाई के लिए विदेश मंत्रालय को लिखा जाएगा। गौरतलब है कि क्राइम ब्रांच की टीमें अख्तर को गुप्त सूचना देने वाले लोगों को पकड़ने के लिए राजस्थान के कई हिस्सों में दबिश दे रही हैं। सूत्रों ने बताया कि क्राइम ब्रांच की दो टीमें अभी जासूसी रैकिट में शामिल मौलाना रमजान, सुभाष जागिड़ और शोएब के साथ राजस्थान में हैं।
एनबीटी
की रिपोर्ट के मुताबिक, क्राइम ब्रांच इन जासूसों को गुप्त जानकारी लीक करने वाले लोगों के बारे में जानकारी जुटाने की कोशिश कर रही है।
सूत्रों ने बताया कि हो सकता है कि कुछ रिटायर अधिकारी इन जासूसों के संपर्क में हों। गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद मुनव्वर सलीम के पीए फरहत खान को जासूसी रैकिट में शामिल होने आरोप में गिरफ्तार किया था। पाकिस्तानी उच्चायोग का एक कर्मचारी 26 अक्टूबर को गुप्त दस्तावेजों के साथ पकड़ा गया था। अख्तर के साथ राजस्थान के नागौर निवासी रमजान और जांगिड़ भी पकड़े गए थे। अन्य आरोपी शोएब को जोधपुर में हिरासत में लिया गया था और पुलिस उसे दिल्ली लेकर आयी थी जहां उसे गिरफ्तार कर लिया गया था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top