Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

''पद्मावती'' की जंग में कूदी केंद्रीय मंत्री उमा भारती, लिखा ये खुला खत

राजस्थान के कुछ राजपूत संगठनों ने फिल्म ''पद्मावती'' का पोस्टर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया था।

डायरेक्टर संजय लीला भंसाली की आने वाली फिल्म 'पद्मावती' को लेकर चल रहे विवाद में अब केंद्रीय मंत्री उमा भारती भी कूद पड़ी हैं।

रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण और शाहिद कपूर अभिनीत फिल्म पद्मावती को लेकर उमा भारती ने एक खुला खत लिखा है।

उमा भारती ने ट्वीटर पर अपना एक खुला खत जारी किया है। अपने इस खुले खत में उमा भारती ने अलाउद्दीन खिलजी को एक व्यभिचारी हमलावर बताया है।

उमा भारती ने इसके बाद सिलसिलेवार ये ट्वीट किए-

* मैंने तो फिल्म देखी नहीं है, किंतु लोगों के मन में आशंकाओं का जन्म क्यों हो रहा है? इन आशंकाओं का लुत्फ मत उठाइए, न कोइ वोट बैंक बनाइए।

* हमने इतिहास में यही पढ़ा है तथा आज भी खिलजी से नफरत तथा पद्मावती के लिए सम्मान है, उनके दुखद अंत के लिए बहुत वेदना होती है।

* स्वयं रानी पद्मावती ने हजारों उन स्त्रियों के साथ, जिनके पति वीरगति को प्राप्त हो गए थे, जीवित ही स्वयं को आग के हवाले कर जौहर कर लिया था

* रानी पद्मावती की गाथा एक ऐतिहासिक तथ्य है। खिलजी एक व्यवचारी हमलावर था। उसकी बुरी नजर पद्मावती पर थी, उसने चित्तौड़ को नष्ट कर दिया था।

* तथ्य को बदला नही जा सकता, उसे अच्छा या बुरा कहा जा सकता है। आप किसी ऐतिहासिक तथ्य पर फिल्म बनाते हैं तो उसके फैक्ट को वॉयलेट नहीं कर सकते।

उमा ने कहा है कि वह रानी पद्मावती के विषय पर तटस्थ नहीं रह सकतीं। इस मामले में अभी कुछ दिन पहले राजस्थान में कई जगहों पर धरना प्रदर्शन किए गए थे।

इसे भी पढ़ें- राजस्थान: दीपिका की फिल्म 'पद्मावती' का भारी विरोध, चित्तौड़गढ़ बंद

चित्तौड़गढ़ में हुए विरोध प्रदर्शन में राजस्थान के कई इलाकों से आए हुए लोगों ने शहर में बंद और धरना दिया।

इससे पहले भी राजस्थान के कुछ राजपूत संगठनों ने फिल्म का पोस्टर जला कर विरोध प्रदर्शन किया था।

बताया जाता है कि इस फिल्म में राजपूत महारानी पद्मावती और मुस्लिम आक्रमणकारी अलाउद्दीन खिलजी के कुछ आपत्तिजनक दृश्य दिखाए गए हैं।

Share it
Top