logo
Breaking

पद्मावती विवाद: करणी सेना ने भंसाली को दी धमकी, कहा - 20 मुख्यमंत्रियों से कहलवाकर फिल्म पर लगवा देंगे बैन

सेंसर बोर्ड ने कहा कि फिल्म को पहले इतिहासकारों की एक टीम के दिखाया जाएगा।

पद्मावती विवाद: करणी सेना ने भंसाली को दी धमकी, कहा - 20 मुख्यमंत्रियों से कहलवाकर फिल्म पर लगवा देंगे बैन

देशभर में फिल्म पद्मावती को लेकर विवाद चल रहा है। इसी बीच करणी सेना ने शुक्रवार को दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस की। करणी सेना ने फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली पर निशाना साधा है। करणी सेना के अध्यक्ष लोकेंद्र कालवी ने कहा कि अभी फिल्म मेकर्स पद्मावकी को फिक्शन बता रहे हैं लेकिन अगर उन्होंने ऐतिहासिक बताया तो हमारा विरोध देखने लायक होगा।

कालवी ने कहा कि देश के 20 मुख्यमंत्रियों की सहमति से हम फिल्म को उनके राज्यों में बैन करवा देंगे। इसके बाद केंद्र सरकार सिनेमेटोग्राफी एक्ट के तहत फिल्म पर तीन महीने तक की रोक लगा सकती है।
करणी सेना का कहना है कि फिल्म निर्माताओं ने यूके में पद्मावती को ऐतिहासिक ड्रामा बताकर सर्टिफिकेट हासिल कर लिया और अब भारत में उसे फिक्शिन बता रहे हें। उन्होंने भंसाली पर आरोप लगाते हुए कहा कि सेंसर बोर्ड में जाकर भंसाली फिर से पलटी मार लेगें।
करणी सेना ने प्री सेंसर बोर्ड बनाने की मांग की है। पत्रकारों को फिल्म दिखाए जानें पर करणी सेना ने कहा कि क्या पत्रकार सुपर सेंसर हैं?
दाऊद ने दी धमकी
कालवी ने कहा कि पद्मावती के विरोध के कारण उन्हें दाऊद से धमकी मिल रही है। उन्होंने कहा कि दाऊद ने उन्हें बम से उड़ाने की धमकी दी है। ये बात कराची के पास से आए एक फोन में कही गई। इस बात की शिकायत उन्होंने राजस्थान एसओजी से की है।
गौरतलब है कि संजय लीला भंसाली ने गुरुवार को अपना पक्ष संसदीय कमेटी के सामने रखा । उन्होंने कहा कि ये फिल्म प्रसिद्ध सूफी संत मलिक मुहम्मद जायसी की लोकप्रिय रचना पद्मावत पर बनी है।
सेंसर बोर्ड ने कहा कि फिल्म को पहले इतिहासकारों की एक टीम के दिखाया जाएगा।
Loading...
Share it
Top