Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बेटी के जन्म पर 11 हजार जमा करवाएगी अॉक्सी हेल्थकेयर

मां बनने वाली महिला को ''ऑक्सी गर्ल डेवलपमेंट प्रोग्राम'' के तहत अपना पंजीकरण कराना होगा।

बेटी के जन्म पर 11 हजार जमा करवाएगी अॉक्सी हेल्थकेयर
नई दिल्ली. स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र की प्रमुख कंपनी ऑक्सी हेल्थकेयर ने देश भर में कहीं भी जन्म लेने वाली बच्चियों के खाते में जन्म के समय ही 11 हजार रुपये जमा कराने की घोषणा की है। कंपनी ने एक बयान जारी कर बताया कि रियो ओलंपिक में महिलाओं के शानदार प्रदर्शन से उत्साहित होकर कंपनी ने ‘ऑक्सी गर्ल डेवलपमेंट प्रोग्राम' शुरू किया है।
ऑक्सी हेल्थकेयर की संह संस्थापक शीतल कपूर ने बताया कि, ‘ऑक्सी ने देश की नयी पीढी के सर्वांगीण स्वास्थ्य का दृष्टिकोण बनाया है। वह महिलाओं के स्वास्थ्य के साथ ही उन्हें पुरुषों के बराबर ही उचित सम्मान दिलाने के लिए प्रयासरत है। रियो ओलंपिक में रजत एवं कांस्य पदक जीतने के बाद कंपनी देश में जन्म लेने वाली प्रत्येक लड़की को सोना जीतने में मदद करना चाहती है।'
कंपनी ने ‘ऑक्सी गर्ल डेवलपमेंट प्रोग्राम' के तहत प्रतिवर्ष के लिए 1,000 करोड़ रुपये का बजट तय किया है। कंपनी के प्रबंध निदेशक पंकज गुप्ता ने कहा, ‘इसके लिए हम देश में कहीं भी जन्म लेने वाली लड़की के माता-पिता से कोई सहयोग राशि नहीं लेंगे और 11 हजार ऱपये की संपूर्ण राशि कंपनी लड़की के नाम से खाता खुलवाकर खुद ही जमा करेगी। इसके लिए किसी प्रकार की छिपी हुई शर्ते नहीं हैं। इसके लिए हमने सालाना 1,000 करोड़ रुपये का बजट तय किया है।' उन्होंने बताया कि 18 साल पूरा करने के बाद लड़की अपने खाते से यह रकम निकाल सकेगी। लड़की के धन आहरण करने के बाद वह अपनी मर्जी से इसका उपयोग शिक्षा, व्यवसाय अथवा विवाह में कर सकेगी।
मां बनने वाली महिला को कराना होगा पंजीकरण
मां बनने वाली महिला को ऑक्सी गर्ल डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत अपना पंजीकरण कराना होगा। एक अनुमान के मुताबिक देश में प्रतिदिन करीब 50,000 बच्चे जन्म लेते हैं। गुप्ता ने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि हम इस कार्यक्रम के तहत रोजाना करीब 5,000 महिलाओं का पंजीकरण करेंगे। लड़की पैदा होने पर हम बैंक में उनका बचत खाता खुलवाकर उसके नाम पर 11,000 रुपये जमा करेंगे। जिसे वह 18 साल पूरा होने पर निकाल सकेगी।' उन्होंने बताया कि इसके अलावा कंपनी पंजीकरण कराने के बाद महिलाओं के स्वास्थ्य की नियमित जांच करेगी।
उन्होंने कहा कि हम देश में पैदा होने वाली सभी लड़कियों और प्रसव के बाद महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं। इस तरह के प्रयास से देश में लड़कियों की मृत्युदर में भी कमी आएगी। ऑक्सी पिछले तीन साल से स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में काम कर रही है। कंपनी ने देश के 110 शहरों में एक ही दिन में लगाये गये कुल 520 मुफ्त स्वास्थ्य जांच शिविरों में 10 लाख लोगों की मुफ्त स्वास्थ्य जांच की है। कंपनी अभी तक डेढ़ करोड़ लोगों की मुफ्त स्वास्थ्य जांच कर चुकी है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top