logo
Breaking

सिद्धारमैया का आरोप: ओवैसी और भाजपा में हुई सीक्रेट डील, कांग्रेस में खलबली

सिद्धारमैया ​​ने कहा कि ओवैसी खुद को मुस्लिम का मसीहा कहते हैं। लेकिन वास्तव में वह भाजपा एजेंट है।

सिद्धारमैया का आरोप: ओवैसी और भाजपा में हुई सीक्रेट डील, कांग्रेस में खलबली

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को लेकर कर्नाटक कांग्रेस में खलबली मची है। मुख्यमंत्री सिद्धारमैया समेत पार्टी के शीर्ष नेता आरोप लगा रहे हैं कि कांग्रेस को हराने के लिए बीजेपी और ओवैसी के बीच सीक्रेट डील हुई है।

कांग्रेस के नेता तो यहां तक कह रहे हैं कि भाजपा के कुछ नेताओं ने ओवैसी के साथ एक गुप्त बैठक की है और एमआईएम को कहा गया है कि मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में कम से कम 50 सीटों पर उम्मीदवार खड़ा करे।

इसे भी पढ़ें- पकौड़ा पॉलिटिक्स पर बोले ओवैसी, ये 56 इंच का सीना सिर्फ मुस्लमानों के लिए

औवैसी भाजपा एजेंट

सिद्धारमैया ​​ने कहा कि ओवैसी राज्य में कांग्रेस की जीत की संभावनाओं को खत्म करने के लिए सहमत हो गए हैं। यह वास्तव में चिंता का विषय है। वह खुद को मुस्लिम का मसीहा कहते हैं। वास्तव में वह भाजपा एजेंट है।

उन्होंने पहले यूपी और महाराष्ट्र में उनकी मदद की और अब वह कर्नाटक में उनकी मदद करने के लिए सहमत हो गए हैं। हम भाजपा और ओवैसी दोनों को बेनकाब करना चाहते हैं।

इसे भी पढ़ें- मुंबई में रैली के दौरान ओवैसी पर फेंका जूता, आरोपी की पहचान हुई

यह डील साबित करता है कि वे न तो हिन्दू के साथ हैं और न ही मुसलमानों के साथ। वोटों के लिए वह किसी के भी साथ हाथ मिला सकते हैं। कर्नाटक के गृहमंत्री रामालिंगा रेड्डी ने कहा कि भाजपा हताश है।

कर्नाटक में कांग्रेस के वोटों को बांटने के लिए हर तरीका इस्तेमाल कर रही है। भाजपा कट्टरपंथी संगठन पीएफआई और इसकी राजनीतिक इकाई एसडीपीआई के साथ भी बातचीत कर रही है। वह मुस्लिम वोटों को बांटने के लिए ओवैसी, पीएफआई और एसडीपीआई की मदद ले रहे हैं।

Loading...
Share it
Top