Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लादेन के चहेते बेटे हमजा बिन लादेन के ये हैं हैरान करने वाले 10 किस्से

हमजा लादेन का सबसे छोटा बेटा है और बचपन से ही आतंक के साये में रहा है।

लादेन के चहेते बेटे हमजा बिन लादेन के ये हैं हैरान करने वाले 10 किस्से

आतंकी संगठन अलकायदा दुनिया में फिर से सिर उठा रहा है। इस बार इसको सहारा और कोई नहीं, 2011 में मारे गए ओसामा बिन लादेन का बेटा हमजा बिन लादेन दे रहा है। हमजा अब इतना खतरनाक हो गया है कि अमेरिका भी घबरा गया है।

सीरिया में अमेरिका ने संयुक्त सेना के साथ मिलकर हमजा के खात्मे के लिए एक खुफिया मिशन तैयार किया है। हमजा लादेन का सबसे छोटा बेटा है और बचपन से ही आतंक के साये में रहा है। इसकी जिंदगी भी लादेन की ही तरह बेहद हैरान और डराने वाली है। एक नजर हमजा की लाइफ पर:-

- अपने पिता ओसामा की आतंकी विरासत को आगे ले जाने वाले हमजा का पूरा नाम ओसामा मोहम्‍मद बिन अवाद बिन लादेन है। लेकिन अलकायदा में इसे शॉर्ट नेम हमजा लादेन कहकर ही बुलाते हैं। वह ओसामा लादेन की तीसरी बीवी खैरिया सबर का सबसे छोटा बेटा है।

- करीब 28 वर्षीय हमजा का बचपन भी आतंक के साए में ही गुजरा है। हाल ही में उसकी आवाज का एक ऑडियो टेप सामने आया है। मीडिया में उसकी नई फोटो नहीं आई है। अलकायदा ने एक खास रणनीति के तहत उसे गोपनीय रखा गया है। बता दें कि लादेन का सबसे चहेता बेटा था हमजा।

- हमजा अपने पिता लादेन के खात्मे से बहुत पहले ही आतंक की दुनिया में आ गया था। 2001 में जब अमेरिका ने लादेन के गढ़ में हमला किया तो हमजा सिर्फ 10 साल का था। एक वीडियो में वह एक धवस्‍त अमेरिकी हेलीकॉप्‍टर के पास खड़ा नजर आया था।

- हमजा को शेरों-शायरी का भी शौक है। खास बात यह है कि 2008 में ब्रिटिश अखबार 'द सन' ने हमजा की एक शायराना धमकी छापी थी। इसके जरिए हमजा ने अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन और डेनमार्क को बर्बाद करने की धमकी दी थी।

- साल 2003 में अफगानिस्‍तान में हमजा और उसके भाई साद बिन लादेन अमेरिकी हमले में घायल भी हो गए थे। 2005 में 'मुजाहिद्दीन ऑफ वजिरिस्‍तान' के नाम का एक वीडियो समाने आया, जिसमें हमजा पाकिस्तानी सैनिकों की हत्‍या करता हुआ नजर आया था।

- पाकिस्तान के एबटाबाद में 2011 में चले 'ऑपरेशन जेरेनिमो' के बाद से हमजा अंडरग्राउंड हो गया। जब पिता लादेन मारा गया तो उसने उसका बदला लेने के लिए कसम खाई और अलकायदा के गिरते ग्राफ को उठाना शुरू कर दिया।

-खास बात यह है कि अलकायदा संगठन भी लादेन के वारिस हमजा को ही भुनाना चाहता है। इसकी वजह है कि लादेन दुनिया भर में आतंक का प्रतीक बन गया था। हमजा इन दिनों सीरिया में अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देने की कोशिश में है।

Next Story
Top