Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

NDTV को प्रतिबंधित किया जाना चौंकाने वाला: राहुल गांधी

इस मामले पर कई नेताओं के बयान भी सामने आए हैं।

NDTV को प्रतिबंधित किया जाना चौंकाने वाला: राहुल गांधी
नई दिल्ली. हिन्दी के समाचार चैनल एनडीटीवी इंडिया पर पठानकोट हमले को लेकर केन्द्र द्वारा लगाए गए एक दिन के प्रतिबंध की विपक्षी दलों एवं मीडिया संगठनों ने शुक्रवार को तीथी भत्सर्ना की तथा इसे स्तब्ध करने वाला, अधिनायकवादी और आपातकाल की याद दिलाने वाला करार दिया।
गैर भाजपा दलों के नेताओं एवं मीडिया संगठनों ने नौ नवंबर को ब्लैक आउट करने आदेश को तुरंत वापस लेने की मांग की। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि सभी समाचारपत्रों को साहस दिखाना चाहिए तथा अपना विरोध जताते हुए उस दिन प्रसारण और प्रकाशन नहीं करना चाहिए।
पं. बंगाल की मुख्यमत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि इससे इस बात की तस्दीक होती है कि देश में आपातकाल जैसे हालात हैं। एनडीटीवी पर प्रतिबंध स्तब्ध कर देने वाला है। पठानकोठ घटना के कवरेज को लेकर अगर सरकार को कोई आपत्ति थी तो इसके लिए नियम कायदे मौजूद हैं। लेकिन प्रतिबंध आपातकाल जैसी स्थिति की गवाही देता है।
वहीं दूसरी ओर इस मामले पर कई नेताओं के बयान भी सामने आए हैं -
मीडिया हो एकजुट
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि, मुझे उम्मीद है कि एनडीटीवी से एकजुटता दिखाते हुए पूरे मीडिया को प्रसारण रोक देना चाहिए। मोदी सरकार की तानाशाही के खिलाफ खड़े होने का साहस दिखाने के लिए एडीटर्स गिल्ड को बधाई।- अ
रविंद केजरीवाल
एक दिन में कर दिया
विपक्षी नेताओं को हिरासत में लेना, टीवी चैनलों को ब्लैक आउट कर देना- मोदी जी के भारत में यह सब एक दिन में कर दिया गया। एनडीटीवी को प्रतिबंधित किया जाना स्तब्ध करने वाला और अभूतपूर्व। -राहुल गांधी
गौरतलब है कि इस साल की शुरुआत में पठानकोट में हुए आतंकी हमले के दौरान संवेदनशील सूचना का प्रसारण करने के लिए केन्द्र ने एनडीटीवी इंडिया का प्रसारण नौ नवंबर को एक दिन के लिए रोकने का आदेश दिया था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top