Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

फेस्टिव सीजन में जीरो-कॉस्ट EMI पर करें ऑनलाइन शॉपिंग

रिजर्व बैंक के रेग्युलेशंस को ध्यान में रखते हुए इसके फॉर्मेट में थोड़ा बदलाव हुआ है।

फेस्टिव सीजन में जीरो-कॉस्ट EMI पर करें ऑनलाइन शॉपिंग
नई दिल्ली. इस त्योहारी सीजन में जीरो-कॉस्ट ईएमआइ की वापसी हो रही है। रिटेल स्टोर्स, ऑनलाइन साइट्स और बैंक फेस्टिव सीजन के दौरान शॉपिंग के लिए ऑफर पेश कर रहे हैं। जीरो-कॉस्ट ईएमआइ यानी कस्टमर्स के लिए जीरो डाउन पेमेंट और जीरो इंट्रेस्ट होगा। लेकिन यह स्कीम केवल क्रेडिट कार्ट यूजर्स के लिए होगी।
इस स्कीम ने तीन साल के बाद वापसी की है। हालांकि, रिजर्व बैंक के रेग्युलेशंस को ध्यान में रखते हुए इसके फॉर्मेट में थोड़ा बदलाव हुआ है। ईएमआइ ऑप्शन का स्ट्रक्चर इस तरह तैयार किया गया है कि बैंकों के इंट्रेस्ट से जुड़ी राशि को कन्ज्यूमर्स को मिले डिस्काउंट की तरह पेश किया जाएगा। मामले से वाकिफ सूत्रों ने बताया कि रिटेलर्स, ई-कॉमर्स सेलर्स या ब्रांड्स इंट्रेस्ट का बोझ उठाएंगे। कन्ज्यूमर्स को प्रोसेसिंग फीस या किसी अन्य चार्ज का भुगतान नहीं करना होगा।
रिजर्व बैंक ने 2013 में बैंकों को क्रेडिट कार्ड पर जीरो पर्सेंट ईएमआइ स्कीम ऑफर करने से मना कर दिया था। केंद्रीय बैंक का कहना था कि कन्ज्यूमर्स से प्रोसेसिंग फीस के तौर पर इंट्रेस्ट की रकम वसूली जाती है।
फ्लिपकार्ट और फ्यूचर ग्रुप ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, आइसीआइसीआइ बैंक, एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक, सिटी बैंक और एचएसबीसी के साथ मिलकर जीरो-कॉस्ट ईएमआइ स्कीम पेश की है। एक प्राइवेट बैंक के सीनियर एग्जिक्यूटिव ने बताया कि दिवाली शॉपिंग फेस्टिवल से पहले इस ऑफर से अन्य ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस और ऑफलाइन रिटेलर्स को भी जोड़ा जा सकता है।
यह मॉडल बजाज फाइनैंस समेत कई नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों के जीरो-कॉस्ट ईएमआइ ऑप्शन की तरह है, जिसमें इंट्रेस्ट का बोझ रिटेलर्स और ब्रांड्स बर्दाश्त करते हैं। एक और एग्जिक्यूटिव ने बताया, 'बैंकों ने यह सुनिश्चित किया है कि जीरो-कॉस्ट ईएमआइ रिजर्व बैंक की गाइडलाइंस के मुताबिक हो।' रिटेलर्स और ऑनलाइन साइट्स के पास भी ईएमआइ स्कीम है, जहां क्रेडिट कार्ड कन्ज्यूमर्स को 12-15 फीसदी इंट्रेस्ट रेट देना होता है।
हालिया कदम का मकसद फेस्टिव सीजन के दौरान सेल्स बढ़ाना है। भारत में फेस्टिव सीजन शॉपिंग का सबसे अहम मौका होता है। बैंकों को उम्मीद है कि कॉर्पोरेट लोन की डिमांड में सुस्ती के बीच इस पहल से रिटेल लोन ग्रोथ को रफ्तार मिलेगी।
फ्यूचर ग्रुप के स्टोर्स- बिग बाजार, ईजोन और सेंट्रल पर कस्टमर्स 5,000 रुपए से ज्यादा की खरीदारी पर इस स्कीम का फायदा उठा सकते हैं। फ्लिपकार्ट ने चुनिंदा सेलर्स के साथ 4,000 रुपए से ज्यादा की शॉपिंग पर यह ऑफर पेश किया है, जिसके लिए पेमेंट 6,9 या 12 महीनों में किया जाना है।
साभार- नवभारत टाइम्स
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top