Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ओडिशा: 52 हजार स्कूलों में बच्चों के लिए न शिक्षक न क्लास

करीब 52 हजार स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने के लिए टीचर नहीं है।

ओडिशा: 52 हजार स्कूलों में बच्चों के लिए न शिक्षक न क्लास
X
भुवनेश्वर. जन शिक्षा विभाग के तहत चलाएं जा रहें करीब 52,000 सरकारी प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में किसी भी वर्ग के लिए कोई शिक्षक नहीं हैं। तो वहीं 41 हजार से ज्यादा स्कूलों में बच्चों के लिए कक्षाएं तक उपलब्ध नहीं है।
ओडिशा में राज्य सभा में शिक्षा मंत्री द्वारा इस बात का खुलासा किया गया है। यहां के सरकारी प्राथमिक स्कूलों में न शिक्षक है और न ही बच्चों के बैठने के लिए कक्षाएं ही उपलब्ध हैं। सरकारी शिक्षा विभाग से जुड़ी यह खबर शिक्षा के ढांचे की पोल खोलती है।
इंडिया टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक ओडिशा के स्कूल और जन शिक्षा मंत्री देवी प्रसाद मिश्रा ने राज्य विधानसभा में भाजपा विधायक दिलीप राय को जवाब देते हुए इस बात का खुलासा किया है। जानकारी है कि 212 स्कूलों में काफी समय से कोई शौचालय तक नहीं है। मंत्री ने बताया कि, 'करीब 52 हजार स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने के लिए टीचर नहीं है। यहां तक कि 40 हजार से ऊपर स्कूलों में कक्षाएं तक नहीं हैं।' शिक्षा मंत्री का कहना था कि, 'हालांकि 51 हजार में से 815 स्कूलों में पीने के पानी की आपूर्ति करवाई गई है।
गौरतलब है कि 34 हजार से अधिक प्राथमिक और 17 उच्च प्राथमिक विद्यालयों ओडिशा सरकार के जन शिक्षा विभाग के तहत चलाए जा रहे हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top