Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दयाशंकर ने मायावती पर फिर दिया विवादित बयान, कुत्ते से की तुलना!

दयाशंकर ने कहा कि मायावती एक लालची औरत है।

दयाशंकर ने मायावती पर फिर दिया विवादित बयान, कुत्ते से की तुलना!
आगरा. भाजपा उत्तर प्रदेश से निष्कासित विवादास्पद नेता पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने एक बार फिर मायावती पर हमला बोला है। दयाशंकर को मायावती के खिलाफ अपनी अपमानजनक टिप्पणी के बाद पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था। जाहिर तौर पर दयाशंकर ने अभी तक सबक नहीं सीखा है। इस बार दयाशंकर ने मायावती की तुलना कुत्ते से कर दी। दयाशंकर ने उसके खिलाफ अपने आरोपों को दोहराते हुए फिर से आरोप लगाया कि वह पैसे के पीछे चल रही है।
टाइम्स ऑफ इंटिया की रिपोर्ट के मुताबिक, दयाशंकर उप्र के जनपद के मैनपुरी के घिरोर कस्बे में आयोजित अखिल भारतीय सवर्ण संगठन के सम्मेलन में शामिल होने आए थे। वहां उन्होंने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि मायावती उस कुत्ते जैसी हैं, जैसे गली में कोई गाड़ी जाती है तो कुत्ते उस गाड़ी के पीछे दौड़ने लगते हैं और जैसे ही गाड़ी में ब्रेक लगता है तो कुत्ते पीछे भाग जाते हैं। अपने भाषण में दयाशंकर ने कहा कि वह एक लालची औरत है।
इसके साथ ही दयाशंकर ने कहा कि मायावती और उसके परिवार के करीबी सदस्यों और सहयोगियों, उसके भाई, आनंद कुमार सहित, और अधिवक्ता सतीश मिश्रा ने संदिग्ध सौदों से करोड़ों रुपए बनाए हैं। दयाशंकर ने उसे 'धोखेबाज' और 'कायर' करार दिया। दयाशंकर के भाषण का वीडियो रात को वायरल हुआ, जिसमें वह कुत्ते और बाइक सवार का उदाहरण दे रहे हैं। हालांकि, वीडियो में यह साफ नहीं है कि किसके लिए यह कहा गया है।
दयाशंकर ने अपने बचाव में कहा कि मायावती मुझे कुत्ता कहती हैं। मेरे खिलाफ पोस्टर छपवाकर कहा कि दयाशंकर कुत्ता है। मैंने इसका उदाहरण दिया था, मायावती को अपशब्द नहीं कहा।
दयाशंकर सिंह ने इससे पहले मायावती पर कटाक्ष किया था। इसके चलते उन्हें जेल तक जाना पड़ा। उनकी पत्नी स्वाति सिंह ने बाद में मोर्चा संभालते हुए मायावती पर पलटवार किया था। स्वाति ने बसपा सुप्रीम को चुनाव लड़ने की खुली चुनौती दे डाली थी। स्वाति सिंह ने कहा था कि मायावती केवल जातिगत आधार पर समाज को बांटना चाहती हैं, जिस सीट से मायावती चुनाव लड़ें और यदि वह सामान्य सीट है तो वे भी चुनाव लड़ेंगी। कहा कि बेटी व उनके साथ जो बसपा नेताओं ने बयानबाजी की है, इससे सर्वसमाज आहत हुआ है, पर किसी भी राजनीतिक पार्टी ने उनका दर्द साझा नहीं किया।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
hari bhoomi
Share it
Top