Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नोट बैन को लेकर माया ने केंद्र पर बोला हमला, सरकार पर RSS का दबाव

ढाई साल के बाद केंद्र सरकार को कालेधन की याद आयी है

नोट बैन को लेकर माया ने केंद्र पर बोला हमला, सरकार पर RSS का दबाव
लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मायावती ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार द्वारा 500 और 1000 के पुराने नोटों पर बैन किए जाने के फैसले पर हमला बोला। उन्होंने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी की नीयत साफ नहीं है। उन्होंने पूछा कि आखिर क्यों ढाई साल के बाद केंद्र सरकार को कालेधन की याद आयी है और उसने नोट बंद करने का फैसला किया है? इससे पहले सरकार को कालाधन की चिंता क्यों नहीं हुई। मायावती ने नरेंद्र मोदी सरकार पर तल्खी टिप्पणी करते हुए कहा कि सरकार का यह निर्णय स्वार्थ से परिपूर्ण है।
उन्होंने कहा कि इनके चाल, चरित्र और नीयत में कोई परिवर्तन नहीं आया है। मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल के ढाई साल पूरे कर लिये हैं, लेकिन इतने समय में भी सरकार ने चुनाव से पूर्व किये गये अपने वादों में से एक चौथाई भी पूरा नहीं किया है।
मायावती ने कहा कि मोदी ने देश में इमरजेंसी जैसा माहौल बना दिया है। देश में लोग गरीबी और बेरोजगारी से परेशान हैं। देश की सीमाएं असुरक्षित हैं। ऐसे समय में देश में अघोषित आर्थिक इमरजेंसी लगा दी है।
मायावती ने आरोप लगाया कि ऐसी चर्चा देश में आम है कि नरेंद्र मोदी पूंजीपतियों की मदद करती है, उसे आम जनता से कोई लेना-देना नहीं है। सरकार पर आरएसएस का दबाव है और जनता उनसे मायूस है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top