Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

किम जोंग और डोनाल्ड ट्रंप की शिखर वार्ता पर छाए काले बदल, उत्तर कोरिया ने दी धमकी

दक्षिण कोरिया और अमेरिका के बीच सैन्य अभ्यास पर कड़ी आपत्ति जताते हुए उत्तर कोरिया ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पड़ोसी देश के साथ उच्च स्तरीय बैठक रद्द कर दी है और इसके साथ ही किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच होने वाली ऐतिहासिक बैठक रद्द करने की भी धमकी दी है। दूसरी ओर अमेरिका ने कहा कि वह शिखर वार्ता की तैयारियां कर रहा है।

किम जोंग और डोनाल्ड ट्रंप की शिखर वार्ता पर छाए काले बदल, उत्तर कोरिया ने दी धमकी

दक्षिण कोरिया और अमेरिका के बीच सैन्य अभ्यास पर कड़ी आपत्ति जताते हुए उत्तर कोरिया ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पड़ोसी देश के साथ उच्च स्तरीय बैठक रद्द कर दी है और इसके साथ ही किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच होने वाली ऐतिहासिक बैठक रद्द करने की भी धमकी दी है। दूसरी ओर अमेरिका ने कहा कि वह शिखर वार्ता की तैयारियां कर रहा है।

ट्रंप और किम के बीच सिंगापुर में 12 जून को होने वाली शिखर वार्ता पर अनिश्चितता के बादल छा गए हैं। दोनों कोरियाई देशों के नेताओं की आज एक सीमावर्ती गांव में बैठक होनी थी। इसके कुछ घंटे पहले उत्तर कोरिया की कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने इस संबंध में एक बयान जारी किया।

दोनों देशों की अपनी सीमा पर सैन्य तनाव कम करने के हाल के समझौतों को लागू करने के तरीकों तथा अपने संबंध सुधारने पर चर्चा करने की संभावना थी। व्हाइट हाउस ने कहा कि उत्तर कोरिया ने जो कहा है उस पर वह स्वतंत्र रूप से विचार करेगा। विदेश विभाग ने कहा कि वह शिखर वार्ता की तैयारियां कर रहा है।

केसीएनए ने उत्तर कोरिया के हवाले से कहा कि उसके इस कदम के पीछे की वजह अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच चल रहा सैन्य अभ्यास है। उसने कहा कि संयुक्त अभ्यास अमेरिका और दक्षिण कोरिया के अचल रूख को दर्शाता है ताकि वह उत्तर कोरिया के खिलाफ अधिकतम दबाव बना सके और प्रतिबंध लगाए रखे।

इसके बाद उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया के साथ आज होने वाली बैठक रद्द कर दी। उत्तर कोरिया ने कोरियाई देशों के बीच बातचीत विफल होने और उत्तर-दक्षिण कोरिया संबंध खराब होने के लिए दक्षिण कोरिया प्रशासन को पूरी तरह से जिम्मेदार ठहराया।

बयान में कहा गया है अमेरिका को दक्षिण कोरिया के साथ मिलकर उत्तर कोरिया के खिलाफ उकसावे की सैन्य कार्रवाई करने से पहले अब डीपीआरके-अमेरिका शिखर वार्ता के भविष्य के बारे में दो बार सोचना होगा। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कहा कि अमेरिका इस संबंध में मीडिया रिपोर्टों से अवगत है।

Next Story
Top