Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

उत्तर कोरिया का तानाशाह सीक्रेट तरीके से पहुंचा चीन, दौरे के पीछे की वजह आई सामने

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन गुप्त रूप से चीन के दौरे पर है। साल 2011 में जब किम जोंग-उन ने सत्ता संभालने के बाद उसकी यह पहली विदेशी दौरा है।

उत्तर कोरिया का तानाशाह सीक्रेट तरीके से पहुंचा चीन, दौरे के पीछे की वजह आई सामने

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन गुप्त रूप से चीन के दौरे पर है। साल 2011 में जब किम जोंग-उन ने सत्ता संभालने के बाद उसकी यह पहली विदेशी दौरा है। सूत्रों के हवाले से यह खबर सामने आई है कि उत्तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग-उन रविवार और सोमवार को चीन की राजधानी बीजिंग में था।

वहीं जपानी मीडिया की तरफ से यह खबर भी सामने आई थी कि दोनों देशों की विशेष चर्चा के लिए उत्तर कोरिया का तानाशाह एक उच्च श्रेणी की ट्रेन से चीन पहुंचा था।

ये भी पढ़े: आधार कार्ड की अनिवार्यता को लेकर सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई, जानें पूरा मामला

किम के चीन दौरे को लेकर वहां के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि उनको इस यात्रा की जानकारी नहीं है। वहीं दूसरी तरफ उत्तर कोरियाई के विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने भी चुप्पी साध रखी है।

जपानी मीडिया की खबर के मुताबिक उत्तर कोरिया के इस दौरे के पीछे का एक ही मकसद है कि दोनों देशों के बीच रिश्तों को सुधारना और परमाणु कार्यक्रम के दौरान उनके खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों पर चीन के समर्थन के चलते लंबे समय से दोनों देशों के बीच तनाव बना हुआ था।

ये भी पढ़े: महाराष्ट्र ATS ने गिरफ्तार किए 8 बांग्लादेशी, फर्जी पासपोर्ट, पैन कार्ड और आधार कार्ड बरामद

बता दें कि एक एजेंसी के मुताबिक उत्तर कोरिया की दूतावास से लाइसेंस प्लेट के साथ एक कार सोमवार को बीजिंग में पीपल्स ग्रेट हॉल के पास खड़ी थी। बीजिंग के रेलवे स्टेशन के बाहर एक दुकनदार का कहना है कि सोमवार को शाम उसने एक असामन्य दृशय देखा था।

सड़क और स्टेशन के बाहर काफी भारी तादाद में पुलिस वाले खड़े थे और स्टेशन भी अंदर से बंद था।

वहीं दूसरी तरफ सोमवार को दक्षिण कोरियाई प्रवक्ता ने कहा था कि सरकार संबंधित देशों से बात कर रही है और स्थिति पर नज़र बनाए हुए है। टोक्यो की निपॉन न्यूज़ नेटवर्क ने हरे डिब्बों पर पीली धारियों वाली उस ट्रेन की तस्वीरें भी दिखाई थी।

ये भी पढ़े: अमेरिका ने दिया पाकिस्तान को बड़ा झटका, न्यूक्लियर वाली 7 कंपनियाों को किया बैन

इन डिब्बों पर चैनल का कहना है कि किम जोंग-उन के पिता और उत्तर कोरिया के नेता रहे किम जोंग-इल 2011 में जिस ट्रेन से बीजिंग पहुंचे थे, यह भी कुछ इस तरह की दिखती थी।

Next Story
Top