Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

युद्ध की तैयारी में लगा उत्तर कोरिया, 47 लाख लोग होंगे सेना में भर्ती

नॉर्थ कोरिया की सरकारी मीडिया ने गुरुवार को लोगों के सेना में स्वैच्छिक शामिल होने की जानकारी दी है।

युद्ध की तैयारी में लगा उत्तर कोरिया, 47 लाख लोग होंगे सेना में भर्ती

कोरियाई प्रायद्वीप में पैदा हुए तनाव ने वैश्विक स्तर पर युद्ध का संकट खड़ा कर दिया। परमाणु हथियारों के परीक्षण और मिसाइल कार्यक्रमों को लेकर नॉर्थ कोरिया वैश्विक बिरादरी के निशाने पर है।

अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच चल रही जुबानी जंग का स्तर गंभीर हो गया है। इसी बीच नॉर्थ कोरिया से खबर आ रही है कि करीब 47 लाख लोगों ने सेना में स्वेच्छा से भर्ती होने की बात कही है।

ऐसे में सवाल यह है कि क्या नॉर्थ कोरिया युद्ध की आशंकाओं को देखते हुए इस तरह की तैयारी कर रहा है। तानाशाही शासन में नॉर्थ कोरिया से जुड़ीं खबरें भी राज्य नियंत्रित मीडिया के जरिए ही बाहर आती हैं।

नॉर्थ कोरिया की सरकारी मीडिया ने गुरुवार को लोगों के सेना में स्वैच्छिक शामिल होने की जानकारी दी है।

रोडोंग सिनमन दैनिक की रिपोर्ट में कहा गया है कि स्टूडेंट्स और वर्कर्स की इस संख्या में 12.2 लाख महिलाएं भी शामिल हैं। इनसे पिछले 6 दिनों में कोरियन पीपल्स आर्मी में शामिल होने के बारे में पूछा गया है।

किम ने ट्रंप को बताया था विक्षिप्त

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने 22 सितंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति के भाषण की कड़ी निंदा की, जिसमें उन्होंने उत्तर कोरिया को 'पूरे तरीके से तबाह' करने की धमकी दी थी।

किम ने ट्रंप को 'मानसिक रूप से विक्षिप्त' बताया था और कहा था कि प्योंगयांग अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा बेइज्जत किए जाने का 'जवाब उच्च स्तर पर' देगा।

ट्रंप की धमकी को उ.कोरिया ने बताया था जंग का ऐलान

ट्रंप ने मंगलवार को कहा था कि अमरिकी सेना का कोई भी कदम उत्तर कोरिया के लिए 'भयानक' साबित हो सकता है।

उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री ने कहा था कि ट्रंप की इस तरह की धमकी एक तरह से अमेरिका की तरफ से युद्ध का ऐलान है।

नॉर्थ कोरिया पर अमेरिका की तरफ से हाल में ही एक और प्रतिबंध की घोषणा की गई है। इसके तहत प्योंगायांग के 8 बैंकों और 26 एग्जिक्युटिव्स को बैन किया गया है।

आपको बता दें कि हाल में अमेरिका द्वारा प्योंगयांग पर यह दूसरा प्रतिबंध है। उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रमों को देखते हुए सुरक्षा परिषद 2006 से अब तक नौ बार उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध लगा चुका है।

Next Story
Top