logo
Breaking

जानें कैसे बिजनेसमैन से भाजपा के मंत्री बनें नितिन गडकरी, ये रहा पूरा प्रोफाइल

महाराष्ट्र के अहमदनगर में एक कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी स्टेज बेहोश होकर गिर पड़े। जिसके बाद उन्हें आनन-फानन अस्पातल लेकर जाया गया है।

जानें कैसे बिजनेसमैन से भाजपा के मंत्री बनें नितिन गडकरी, ये रहा पूरा प्रोफाइल

महाराष्ट्र के अहमदनगर में एक कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी स्टेज बेहोश होकर गिर पड़े। जिसके बाद उन्हें आनन-फानन में अस्पातल में भर्ती कराया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अभी तक वह अस्पताल में बेहोश हैं और इलाज जारी है। बता दें कि वह महात्मा फुले कृषि कॉलेज के दीक्षांत समारोह के लिए अहमदनगर पहुंचे थे।

जानिए कौन है नितिन गडकरी..

नितिन गडकरी भारतीय राजनीतिज्ञ हैं। वर्तमान में वे केंद्रीय सड़क परिवहन, जहाज़रानी, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री हैं। इससे पहले नितिन गडकरी 2010-2013 तक भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे।

नितिन गडकरी भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष बनने वाले वे इस पार्टी के सबसे कम उम्र के अध्यक्ष बने थे। नितिन गडकरी का जन्म 27 मई 1957 में महाराष्ट्र के नागपुर ज़िले में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ।

नितिन गडकरी कामर्स में पोस्ट ग्रेजुएट हैं, इसके अलावा उन्होंने कानून तथा बिजनेस मनेजमेंट की पढ़ाई भी की है। साथ वह भारत के एक सफल उद्योगपति हैं। मालूम हो की नितिन गडकरी ने 1976 में नागपुर यूनिवर्सिटी में भाजपा की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत की।

इस बाद 23 साल की उम्र में भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष बने। 1989 में नितिन गडकरी पहली बार विधान परिषद के लिए चुने गए। नितिन गडकरी 1995 में महाराष्ट्र में शिव सेना और भाजपा की गठबंधन सरकार में लोक निर्माण मंत्री बनाए गए और वह 4 साल तक मंत्री पद पर रहे।

नितिन गडकरी मंत्री के रूप में वे अपने अच्छे कामों के कारण प्रशंसा में रहे। नितिन गडकरी ने अपनी पहचान ज़मीन से जुड़े एक कार्यकर्ता के तौर पर बनाई है और वे एक राजनेता के साथ-साथ एक कृषक और एक उद्योगपति भी हैं।

Share it
Top