Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पंजाब, हरियाणा में किसानों ने पराली जलाई तो जिम्मेदार अधिकारियों की कटेगी सैलरी : एनजीटी

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) ने पंजाब और हरियाणा में किसानों द्वारा अपने खेत में पराली जलाने को बेहद गंभीरता से लिया है।

पंजाब, हरियाणा में किसानों ने पराली जलाई तो जिम्मेदार अधिकारियों की कटेगी सैलरी : एनजीटी

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) ने पंजाब और हरियाणा में किसानों द्वारा अपने खेत में पराली जलाने को बेहद गंभीरता से लिया है। खास बात यह है कि अब अगर पराली जलाने की कोई खबर मिलेगी तो उस क्षेत्र के संबंधित अधिकारियों को हर्जाना भुगतना होगा।

यह भी पढ़ें: ऑड-ईवन के दौरान डीटीसी की बसों में मुफ्त सफर होने से मेट्रो को मिलेगी राहत

पढ़ें: जेटली ने किया जीएसटी दरों में बदलाव, 18 फीसदी दर की स्लैब में आईं 178 वस्तुएं

इस संबंध में एनजीटी ने संबंधित राज्यों को निर्देश जारी किया है। एनजीटी ने कहा है कि सभी राज्य यह सुनिश्चित करें कि उनके यहां कोई भी पराली नहीं जलाए। अगर एनजीटी को इससे जुड़ी कोई सूचना मिलती है, तो इसके लिए जर्माना भुगतना होगा।

यह भी पढ़ें: गुजरात जनचेतना मंच ने वीवीपैट नियम को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका

एनजीटी ने इसके साथ ही यह भी साफ कर दिया है कि यह हर्जाना जिम्मेदार सरकारी अधिकारी के सैलरी से वसूला जाएगा। स्पष्ट है कि सरकार अब अपनी जिम्मेदारियों से बच नहीं सकती हैं। कोई भी राज्य दूसरे राज्य पर अपनी जिम्मेदारी नहीं टाल सकता है।

यह भी पढ़ें: 'पद्मावती' बनाने के पीछे विदेशी ताकतों का हाथ, भंसाली की जांच हो: स्वामी

सीएम केजरीवाल करें 1 लाख का फाइन

इसके साथ ही एनजीटी ने दिल्ली सरकार को निर्देश दिया है कि अगर कोई निर्माण कार्य में नियमों का उल्लंघन करता है और उससे स्मॉग और प्रदूषण में इजाफा होता है तो उसके खिलाफ एक लाख तक का जुर्माना ठोंका जाए।

पढ़ें: 'पद्मावती' पर आचार्य धर्मेंद्र का शाह को खत, लिखा- भंसाली का यह कुकर्म अक्षम्य अपराध

बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में लोगों का प्रदूषण से बुरा हाल है। पराली जलाने से उठे धुंए से लोगों की आंखों में जलन और सीने में तूफान उठने लगा है। पंजाब और दिल्ली में तो रविवार तक स्कूलों को बंद कर दिया गया है।

Loading...
Share it
Top