Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नए साल पर भूलकर भी ना करें ये काम, वरना खानी पेड़ेगी जेल की हवा

2018 नए साल पर जश्न को लेकर पुलिस ने कमर कस ली है। बगैर पार्किंग स्थल वाले और मेजबानों की सूची नहीं देने वालों को कार्यक्रम की परमिशन नहीं मिल पाएगी।

नए साल पर भूलकर भी ना करें ये काम, वरना खानी पेड़ेगी जेल की हवा

नए साल पर जश्न को लेकर पुलिस ने कमर कस ली है। बगैर पार्किंग स्थल वाले और मेजबानों की सूची नहीं देने वालों को कार्यक्रम की परमिशन नहीं मिल पाएगी। आयोजन करने के लिए अब तक आए 20 आवेदनों का ट्रैफिक पुलिस सर्वे कर रही है।

रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस और प्रशासन से परमिशन मिलने का रास्ता साफ होगा। यही नहीं, शराब परोसने समेत तमाम बिंदुओं पर प्रतिबंधित करने की आयोजक से सहमति ली जा रही है।

परमिशन मिलने के बाद अगर नियमों का उल्लंघन होता है, तो पुलिस होटल, पब समेत अन्य स्थलों को सील कर देगी। साथ ही संचालक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

दरअसल नए साल के जश्न पर लॉ एंड आर्डर बनाए रखना पुलिस के लिए बेहद चुनौती रहती है। पब, होटल समेत अन्य स्थलों पर कार्यक्रम आयोजन से रोड के किनारे गाड़ियां खड़ी कर दी जाती हैं।

इससे ट्रैफिक जाम की समस्या होती है। वहीं पटाखों से प्रदूषण का खतरा बढ़ता है। इसे देखते हुए इस बार पुलिस ने कार्यक्रम पर सख्ती करने का फैसला किया है।

इन जगहों पर लगेगा पाइंट

ट्रैफिक पुलिस ने सुरक्षा के लिहाज से बाइकर्स और नशेड़ी चालकों पर लगाम लगाने शहरभर में 16 पाइंट बनाया है। इनमें तेलीबांधा थाना, तेलीबांधा तालाब, स्वर्ण जयंती तिराहा, पुजारी पार्क, टिकरापारा थाना, आजाद चौक थाना, शास्त्री चौक, सरस्वतीनगर थाना, भारतमाता चौक, जेल एंपोरियम, खमतराई थाना, शंकरनगर आईटीआई कॉलेज, वीआईपी टर्निंग, छेरीखेड़ी ओवरब्रिज, पंडरी थाना आैर छत्तीसगढ़ क्लब चौक शामिल हैं।

यहां 31 दिसंबर की शाम से एक जनवरी सुबह 10 बजे तक पुलिस बल तैनात रहेगा। इन सभी पाइंट पर एक-एक ब्रीथ एनालाइजर से चालकों की जांच की जाएगी। इन पाइंट पर 31 दिसंबर शाम से 1 जनवरी सुबह 10 बजे तक पुलिस बल तैनात रहेगा।

एक हजार पुलिस फोर्स की लगेगी ड्यूटी

पुलिस के मुताबिक बीते साल नए साल का जश्न मनाने 28 से 30 आयोजनों को पुलिस ने अनुमति दी थी। इस साल पुलिस 50 कार्यक्रमों की परमिशन देगी। इसके लिए पुलिस अफसरों ने एक हजार पुलिस बल लगाने का खाका तैयार किया है।

सीएसपी के नेतृत्व में पुलिस टीम बनाई जाएगी। ट्रैफिक कंट्रोल के लिए 150 ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की भी रातभर ड्यूटी लगेगी। यही नहीं, 31 दिसंबर की रात गाड़ियों की सघन जांच की जाएगी। शराब के नशे में गाड़ी चलाना, तीन सवारी, ओवरस्पीड पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। शहरभर में 30 से 35 चेक पाइंट बनाए जाएंगे।

लगाने होंगे नाइट विजन कैमरे

पुलिस के मुताबिक कार्यक्रम स्थल पर नाइट विजन सीसीटीवी कैमरे, पार्किंग, मैडिकल व फायर सेफ्टी उपकरण की उचित व्यवस्था विशेष तौर पर करनी होगी।

किसी भी तरह के नियमों के उल्लंघन करने के बाद संचालक खुद से मामले को निपटाने की कोशिश करने के बजाए तुरंत पुलिस को सूचित करेंगे। अगर बाद में मामला गंभीर होगा, तो उसकी पूरी जिम्मेदारी संचालक की होगी।

होटल व पब की विशेष निगरानी

पुलिस किसी भी होटल में चेक कर सकती है। इस दौरान होटल व डिस्कोथैक का रजिस्टर मेंटेन नहीं होने पर कार्रवाई की जाएगी। सभी संचालकों से कहा गया है, एंट्री से पहले उसका दस्तावेज जरूर जमा करवा लें।

साथ ही मोबाइल नंबर लेना भी जरूरी है। वहीं रेव पार्टी के लिए एक्साइज और पुलिस की अलग-अलग टीमें लगाई जाएंगी।

7 कार्यक्रमों में शराब परोसने की परमिशन की मांग

पुलिस के मुताबिक राजधानी में 31 दिसंबर कार्यक्रम आयोजन के लिए अब तक 20 आवेदन आए हैं। इनमें 7 आवेदनों में शराब परोसने की परमिशन मांगी गई है। सभी आवेदनों को संबंधित थाने पर रिपोर्ट मंगाने भेजा गया है। रिपोर्ट आने के बाद उसे आबकारी विभाग भेजा जाएगा।

कार्यक्रम संचालक को करना होगा इंतजाम

रात 10 बजे तक कार्यक्रम में डीजे बजाने की अनुमति होगी।

कार्यक्रम स्थल के पास पार्किंग की उचित व्यवस्था होनी चाहिए।

कार्यक्रम में हुड़दंग, लड़ाई या आपत्तिजनक हरकत होने पर संचालन बंद करा दिया जाएगा।

डिस्को, पब या होटल में पहचानपत्र जमा करवाने के बाद एंट्री होगी।

पुलिस जांच के दौरान ऐसा नहीं पाए जाने पर संचालक के खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा।

20 आवेदन मिले

एडिशनल एसपी सिटी विजय अग्रवाल ने कहा, नए साल का कार्यक्रम करने आयोजकों को पार्किंग का पूरा ब्योरा देना होगा। अब तक 20 आयोजन के लिए आवेदन आए हैं। शर्तें पूरी होने के बाद कार्यक्रम की परमिशन दी जाएगी।

Next Story
Share it
Top