Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सुभाषचंद्र बोस जयंती: नेताजी की मौत से जुड़े दस्तावेज देखने के लिए यहां करें क्लिक

आज भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारी नेताजी सुभाषचंद्र बोस का जन्मदिन है। नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने ''तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा'' का नारा दिया था।

सुभाषचंद्र बोस जयंती: नेताजी की मौत से जुड़े दस्तावेज देखने के लिए यहां करें क्लिक

आज भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारी नेताजी सुभाषचंद्र बोस का जन्मदिन है। नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने 'तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा' का नारा दिया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर करते हुए नेताजी सुभाषचंद्र बोस श्रद्धांजलि दी। उन्होंने लिखा- नेताजी सुभाष चंद्र बोस की वीरता हर भारतीय को गौरान्वित करती है। उनकी जयंती के मौके पर आज हम उन्हें नमन करते हैं। मोदी ने जिस वीडियो को शेयर किया है उसमें नेताजी के भाषण शामिल हैं।

भारत के राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी नेताजी को श्रद्धांजलि दी है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा, 'नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयन्ती पर उन्हें मेरा नमन। वे हमारे सबसे लोकप्रिय राष्ट्रनायकों और स्वतंत्रता संग्राम के महानतम सेनानियों में से हैं।'

इसे भी पढ़ेंः प्रधानमंत्री के अंदाज में बोले औवेसी- 15 लाख नहीं तो 15 हजार रूपए ही दे दो मित्रो!

नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने आज़ाद हिंद फौज की स्थापना की और अंग्रेजों से देश को आजाद कराने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया था। अंग्रेज़ों के खिलाफ लड़ने के लिए नेताजी ने जापान के सहयोग से आज़ाद हिन्द फौज का गठन किया था।

9वीं संतान थे बोस

नेताजी सुभाषचंद्र बोस का जन्म 23 जनवरी साल 1897 में ओडिशा के कटक शहर में हुआ था। उनके पिता का नाम जानकीनाथ बोस और मां का नाम प्रभावती था। नेता जी के पिता कटक शहर के मशहूर वकील थे। नेता जी के माता-पिता की कुल 14 संतानें थी जिसमें से नेता जी उनकी नौवीं संतान थे।

नेताजी से जुड़ी फाइलें यहां देखें

मोदी ने नेताजी से जुड़ी फाइलों के डिजिटल वर्जन को सार्वजनिक करने के लिए netajipapers.gov.in नाम का एक पोर्टल भी लॉन्‍च किया। इससे पहले नेताजी के पोते चंद्र कुमार बोस ने एक खुला खत लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से महान स्‍वतंत्रता सेनानी के जन्‍मदिन को 'देशप्रेम दिवस' के रूप में मनाने के लिए कहा था।

Next Story
Share it
Top