Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये है जेपी बिल्‍डर की पूरी कहानी, कौन-कौन से फ्लैट अब नहीं बनेंगे

कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट से मिली जानकारी के मुताबिक जेपी इंफ्राटेक के प्रो

ये है जेपी बिल्‍डर की पूरी कहानी, कौन-कौन से फ्लैट अब नहीं बनेंगे
नोएडा के नामी-गिरामी बिल्डर जेपी इंफ्राटेक के दिवालिया घोषित किए जाने के बाद इनके दिल्ली एनसीआर में बन रहे 32000 संकट में फंस गए हैं। खास बात ये है कि इनमें ज्यादातर फ्लैट लोगों ने पहले ही खरीद रखे हैं। ऐसे में अब इन फ्लैट खरीदने वालों के साथ क्या होगा, यह साफ नहीं हुआ है।
कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट से मिली जानकारी के मुताबिक जेपी इंफ्राटेक के प्रोजेक्ट दिल्ली एनसीआर समेत, पुणे, मुंबई में भी काम चल रहा है।
आम आदमी के नजरिए से देखें तो कंपनी प्रतिष्ठित थी। रीयल स्टेट संबंधी कई सारे प्रमाण भी इनकी वेबसाइट पर दिख रहे हैं। ऐसे कोई इस तरह की विपत्ति आने वाली शायद ही किसी आम ग्राहक को इसका अंदाजा हो।
इतना ही नहीं साल 2015 में कंपनी के डायरेक्टर शुभम जैन को कई सारी रीयल स्टेट एजेंसियों ने यंग अचीवर्स अवार्ड भी दिया था।
जेपी ज्यादातर अपार्टमेंट, विला बनाता है। तमाम प्रोजेक्ट देखने से पता चलता है कि जेपी ने आम आदमी को रिझाने के लिए अधिकर फ्लैट 2बीएचके और 3बीएचके बना रखे हैं, जिनकी औसत मूल्य 4,905.01 प्रति स्वायर फीट है।
Next Story
Share it
Top