logo
Breaking

रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, सामान चोरी होने पर ऐसे मिलेगा मुआवजा

नेशनल कंज्यूमर कमीशन ने रेल में सफर कर रहे यात्रियों को राहत देते हुए कहा है कि यात्रियों का सामान गायब या चोरी होने पर रेलवे को मुआवजा देना होगा।

रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, सामान चोरी होने पर ऐसे मिलेगा मुआवजा

नेशनल कंज्यूमर कमीशन ने रेल यात्रियों के हित में एक अहम फैसला दिया है। आयोग ने रेलवे के अनारक्षित कोचों में सफर कर रहे यात्रियों को राहत देते हुए कहा है कि ऐसे कोचों में सफर रहे यात्रियों का सामान गायब या चोरी होने पर रेलवे को मुआवजा देना होगा।

आयोग ने रेलवे की उन दलीलों को खारिज करते हुए ये फैसला किया है, जिसमें रेलवे ने समान की सुरक्षा की जिम्मेदारी यात्रियों की स्वंय की बताई थी। कंज्यूमर कमीशन ने यह भी साफ किया है कि रेल में यात्रा करने वाले यात्रियों और उनके सामान की सुरक्षा की जिम्मेदारी रेलवे की है।

रेखा गुप्ता की अध्यक्षता वाली पीठ ने उपभोक्ताओं के हक में फैसला देते हुए कहा है कि यात्रियों की सुरक्षा को लेकर रेलवे अपनी जिम्मेदारियों से नहीं बच सकता है।

यह भी पढ़ें- 200 साल पुरानी है भीमा कोरेगांव जातीय संघर्ष की लड़ाई, जानिए क्यों हुआ था युद्ध

रेल में यात्रा कर रहे यात्रियों को सुरक्षित और आरामदेह यात्रा मुहैया कराना रेलवे का दायित्व है। साथ ही चलती ट्रेन में चोरी या डकैती होने पर संबंधित रेल जोन को यात्री के नुकसान की भरपाई करनी होगी।

नेशनल कंज्यूमर कमीशन ने यह फैसला साल 2011 के एक मामले में दिया है। दरअसल, फरवरी 2011 में महिला यात्री जैश्मिन मान दिल्ली से श्रीगंगानगर की यात्रा कर रही थीं। इसी दौरान कुछ लोगों ने उनका पर्स छीन लिया था। जिसके बाद जैस्मिन ने कंज्यूमर फोरम में अर्जी डाल रेलवे से मुआवजे की मांग की थी।

जैस्मिन ने अपनी अर्जी में कहा था कि उस समय कोच अटेंडेंट से किसी भी तरह की मदद नहीं की गई थी। आयोग ने उनके हक में फैसला करते हुए रेलवे को ब्याज समेत 2.7 लाख रुपए का मुआवजा देने का आदेश जारी किया है।

Loading...
Share it
Top