Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुझे हिंदुस्तान से प्यार है, मैंने उसके हित में बात कही थी: नसीरुद्दीन शाह

नसीरुद्दीन शाह के बयान पर छिड़े विवाद पर उन्होंने एक निजी टीवी चैनल पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि मैने कभी नहीं कहा कि मैं भारत में असुरक्षित नहीं महसूस करता हूं। मैंने जो भी बातें कही हैं वो एक मुसलमान के नाते नहीं बल्कि एक फिक्रमंद हिंदुस्तानी के नाते कही है।

मुझे हिंदुस्तान से प्यार है, मैंने उसके हित में बात कही थी: नसीरुद्दीन शाह
नसीरुद्दीन शाह के बयान पर छिड़े विवाद पर उन्होंने एक निजी टीवी चैनल पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि मैने कभी नहीं कहा कि मैं भारत में असुरक्षित नहीं महसूस करता हूं। मैने जो भी बातें कही हैं वो एक मुसलमान के नाते नहीं बल्कि एक फिक्रमंद हिंदुस्तानी के नाते कही है।
उन्होंने कहा कि मेरे भाई ने सेना में जाकर देश की सेवा की है। मेरी 5 पुश्तें हिंदुस्तान की मिट्टी में दफन हैं। अब मुझे अपने आप को हिंदुस्तानी दिखाने के लिए क्या करना होगा। मैं अपनी बोलने की आजादी का इस्तेमाल कर रहा हूं।
अगर आप असहमत हैं तो हम बहस कर सकते हैं बशर्ते कि आप पहले ही मुझे गद्दार न कह दें। यहां उन्होंने कहा कि मैं किसी भी राजनीतिक पार्टी का समर्थन नहीं करता हूं। क्या हिंदू मुसलमान के बीच आपके बयान से दूरी आई है? इस सवाल पर नसीरउद्दीन शाह ने कहा कि जो चीज बुलंदशहर में हुई वह पूरे देश और दुनिया को पता है।
मैने तो वही कहा। अब भला मैने कैसे दूरी पैदा कर दी। पाकिस्तानी गायकों को रोका जाता है। उन्हें यहां काम नहीं करने दिया जाता लेकिन पैसा कमाने के लिए हम अपनी फिल्मे पाकिस्तान में दिखाते हैं। हमें यह भी नहीं करना चाहिए। फिल्म इंडस्ट्री को यह तय करना चाहिए कि उसका विश्वास क्या है।
विराट कोहली का बरताव सबसे खराब है इस बयान पर नसीरउद्दीन शाह ने कहा कि वह अपने बयान पर कायम हैं। उन्होंने कहा कि वह विराट कोहली के खेल के प्रशंसक हैं लेकिन उनका बरताव मैदान पर सबसे खराब है। वह गालियां देते हैं। बार-बार रिप्ले दिखाया जाता है। जिसे बच्चे भी देखते हैं। जिसे गलत कहा जाएगा।
आपको बता दें कि हाल ही में नशीरउद्दीन शाह ने बुलंदशहर मामले में कहा था कि एक गाय की मौत को ज्यादा अहमियत दी जाती है। एक पुलिस वाले को नहीं।
Share it
Top