Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भाजपा के ‘ताबूत में आखिरी कील'' साबित होंगे लोकसभा चुनावः ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि यह लोकसभा चुनाव भाजपा के लिए ‘ताबूत में आखिरी कील'' साबित होंगे और इससे नरेंद्र मोदी के ‘डर के साम्राज्य'' का खात्मा होगा।

भाजपा के ‘ताबूत में आखिरी कील

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि यह लोकसभा चुनाव भाजपा के लिए ‘ताबूत में आखिरी कील' साबित होंगे और इससे नरेंद्र मोदी के ‘डर के साम्राज्य' का खात्मा होगा। तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ने भाजपा और प्रधानमंत्री पर हमला करते हुए कहा कि चुनावी लड़ाई ‘एकजुट भारत और कुछ अलग-थलग पड़े लोगों' के बीच होगी।

प्रदेश की सभी 42 लोकसभा सीटों पर टीएमसी के प्रत्याशियों की घोषणा करने के बाद एक पत्रकार वार्ता में बनर्जी ने कहा, ‘‘ 2019 का लोकसभा चुनाव भाजपा के लिए ‘ताबूत में आखिरी कील' साबित होगा और नरेंद्र मोदी के डर के शासन से निजात दिलाएगा। यह चुनाव एकजुट भारत और कुछ अलग थलग लोगों के बीच होगा।'
उन्होंने यह भी दावा किया कि उनके पास जानकारी है कि चुनाव से पहले मतदाताओं को रिश्वत देने के लिए ‘‘वीवीआई‘‘ लोग रुपयों को लाने ले जाने के लिए हेलीकॉप्टर और चार्टर्ड उड़ानों का इस्तेमाल कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल की नेता ने राफेल सौदे, किसान संकट, रोजगार के घटते मौकों समेत विभिन्न मुद्दों पर केंद्र पर हमला बोला।
राफेल सौदे पर सरकार पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों का समर्थन करते हुए बनर्जी ने कहा, ‘‘ राहुल गांधी राफेल घोटाले के बारे में जो कह रहे हैं उससे मैं पूरी तरह से सहमत हूं। वे (भाजपा) सच बोलने के लिए एन राम जैसे पत्रकारों को धमका रहे हैं।'
राम ने ‘द हिन्दू' अखबार में एक लेख लिखकर कहा था कि रक्षा मंत्रालय ने राफेल सौदे पर प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा फ्रांस से ‘समांतार बातचीत' करने पर कड़ी आपत्ति जताई थी। मुख्यमंत्री ने मोदी से पूछा कि वह आरबीआई बोर्ड की आपत्ति के बाद भी नोटबंदी पर आगे क्यों बढ़े?
बनर्जी ने कहा कि भाजपा विरोधी पार्टियों की गठबंधन सरकार नौकरियों के ज्यादा अवसर सृजित करेगी, जम्मू कश्मीर में शांति और स्थिरता लगाएगी और डर के माहौल से छुटकारा दिलाएगी।'
टीएमसी की प्रमुख नेता ने भाजपा पर चुनाव आयोग पर दबाव बनाने का आरोप लगाया और कहा कि इसीलिए चुनाव कार्यक्रम को बहुत ज्यादा लंबा खींचा गया है ताकि प्रधानमंत्री समूचे देश में व्यापक अभियान शुरू कर सकें। अपने दावे के समर्थन में बनर्जी ने कहा कि मोदी के निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में मतदान अंतिम चरण यानी 19 मई को होना है।
उन्होंने कहा, ‘‘ भाजपा चुनाव आयोग को ऐसे प्रभावित करने की कोशिश कर रही है जैसे संवैधानिक निकाय सिर्फ उनका है। चुनाव आयोग हर पार्टी का है। उन्हें (चुनाव आयोग) विभिन्न सिनेमा हॉल में दिखाए जा रहे नरेंद्र मोदी के विज्ञापनों के संबंध में कार्रवाई करनी चाहिए।'
बनर्जी ने कहा कि देश में बीते पांच साल से ‘अघोषित आपातकाल' लगा हुआ है और स्थिति 1975 में घोषित आपातकाल से भी ज्यादा बदतर है। उन्होंने आरोप लगाया कि लोगों में विभाजन और नफरत का बीज बोया जा रहा है और जाति, नस्ल और धर्म के आधार पर लोगों के साथ भेदभाव किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया, ‘‘ देश में गौ रक्षा और लिचिंग (पीट-पीट कर हत्या करना) सिंडिकेट तैयार किया गया है। उनको (भाजपा) इस पर शर्म आनी चाहिए।' बनर्जी ने दावा किया (हवाई) ‘हमले' के नाम पर चुनाव से पहले राजनीतिक लाभ के लिए चरमपंथ को बढ़ावा दिया जा रहा है। पिछले एक साल में आतंकवाद 260 फीसदी तक बढ़ गया है।
Share it
Top