Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

JNU सेे लापता छात्र नजीब अहमद अलीगढ़ में दिखा, फिर गायब

एमएससी स्‍टूडेंट नजीब अहमद 14 नवंबर को जेएनयू के माही मांडवी हॉस्‍टल से लापता हो गया था

JNU सेे लापता छात्र नजीब अहमद अलीगढ़ में दिखा, फिर गायब
नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी से रहस्‍मयी ढंग से लापता छात्र नजीब अहमद को अलीगढ़ में देखा गया है। दिल्ली पुलिस को माही-मांडवी हॉस्टल से 14 नवंबर को एक चिट्ठी मिली है। सूत्रों के मुताबिक यह चिट्ठी अलीगढ़ की रहने वाली एक महिला ने लिखी है, जिसने नजीब अहमद को देखने का दावा किया है।
अहमद के बारे में लिखी यह चिट्ठी, हॉस्टल प्रेजिडेंट अजीम को मिली। अजीम ने नजीब की मां फातिमा नफीस को यह चिट्ठी सौंपी, जिसके बाद फातिमा ने चिट्ठी क्राइम ब्रांच को दे दी।
चिट्ठी में महिला ने लिखा है कि उसने नजीब अहमद को अलीगढ़ की मार्केट में सुरक्षित देखा है। महिला ने यह भी कहा कि नजीब ने उससे मदद मांगी और कहा कि उसे यहां बंद कर के रखा गया है, लेकिन किसी तरह वह भागने में सफल रहा। हालांकि महिला जब तक इसकी जानकारी किसी को देती, नजीब वहां से भाग चुका था या उसे कोई वहां से ले गया था। महिला ने चिट्ठी में अपना पता भी लिखा है ताकि उससे संपर्क किया जा सके।
हालांकि जब क्राइम ब्रांच की टीम उस पते पर पहुंची तो कोई नहीं मिला। चिट्ठी में न तो फिरौती की मांग की गई है न ही उस जगह का जिक्र है जहां नजीब को बंद कर के रखा गया है।
एमएससी स्‍टूडेंट नजीब अहमद 14 नवंबर को जेएनयू के माही मांडवी हॉस्‍टल से लापता हो गया था। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।
जिस कोरियर एजेंसी ने यह लेटर डिलीवर किया, पुलिस उससे भी पूछेगी कि इसे कहां से उठाया गया और किसने भेजा। इस लेटर में हैंडराइटिंग पहचानने के लिए इसे फोरेंसिक जांच के लिए भी भेजा जा सकता है। इस बीच जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी ने उस दिन का सीसीटीवी फुटेज पुलिस को सौंप दिया है जब नजीब जेएनयू छोड़ने के बाद वहां पहुंचा था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top