Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गोरखालैंड की मांग में उतरा पहाड़ों का सबसे लोकप्रिय बैंड

बैंड के प्रमुख गायक प्रणय छेत्री ने कहा, ‘‘हम लोगों ने गीत तैयार किए हैं लेकिन इंटरनेट पर प्रतिबंध के कारण हमें उसे सोशल मीडिया पर अपलोड करने में असमर्थ हैं।

गोरखालैंड की मांग में उतरा पहाड़ों का सबसे लोकप्रिय बैंड

अलग गोरखालैंड की मांग को समर्थन देने के लिए अब बैंड और गायक भी दार्जिलिंग की सड़कों पर उतर गए हैं।

पहाड़ों का सबसे लोकप्रिय बैंड ‘मंत्रा' भी गोरखालैंड आंदोलन के समर्थन में गाने तैयार कर रहा है। मंत्रा के ड्रम वादक बृजू चौधरी ने कहा, ‘हम लोगों ने गोरखालैंड आंदोलन के पक्ष में गीत तैयार किया है।

हमें लगता है कि लोगों तक पहुंचने और आपकी बात सुनी जाए, इन दोनों चीजों के लिए संगीत एक सशक्त हथियार है।' चौधरी ने बताया, ‘इन गीतों के जरिए हम लोगों तक पहुंचेगे और गोरखालैंड के पक्ष में जनमत तैयार करेंगे।'

‘मंत्रा' की तरह दार्जिलिंग और सिक्किम के कई अन्य छोटे बैंड ने भी गोरखालैंड के पक्ष में गीत तैयार किए है।

एक बैंड के प्रमुख गायक प्रणय छेत्री ने कहा, ‘‘हम लोगों ने गीत तैयार किए हैं लेकिन इंटरनेट पर प्रतिबंध के कारण हमें उसे सोशल मीडिया पर अपलोड करने में असमर्थ हैं।

इसे भी पढ़ें- दार्जिलिंग में बंद को हुए 17 दिन, फूंका पंचायत कार्यालय

ऐसे में अलग राज्य और अपनी पहचान के लिए हम छोटे नुक्कड़ कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे हैं।' एकल गायक भी इस आंदोलन के समर्थन में ऐसा कर रहे हैं।

दार्जिलिंग के एक गायक ने कहा, ‘‘हम सभी धर्म और समुदाय का सम्मान करते हैं लेकिन अन्य लोगों को भी हमारा सम्मान करने की आवश्यकता है।

मुझे आशा है कि ये गीत गोरखालैंड आंदोलन को आगे बढ़ा रहे लोगों के मनोबल को बढ़ाएगा।' गोरखालैंड की मांग को लेकर गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के आंदोलन शुरू करने के बाद आठ जून से पहाड़ी में तनाव की स्थिति है।

Next Story
Top