Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुंबईः मसीहा बनकर बारिश में आई नौसेना, दिया भूखों को खाना, प्यासों को पानी

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने आज भी मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी दी है।

मुंबईः मसीहा बनकर बारिश में आई नौसेना, दिया भूखों को खाना, प्यासों को पानी

नौसेना ने मुंबई में विभिन्न स्थानों पर सामुदायिक रसोई और भोजन के काउंटर खोले हैं ताकि भारी बारिश के कारण जहां तहां फंसे यात्रियों को राहत पहुंचाई जा सके।

नौसेना के प्रवक्ता ने बताया, 'चर्चगेट, भायखला, परेल, सीएसटी, वर्ली और तारदेव, मुंबई सेंट्रल, दादर, मानखुर्द, चेंबूर, मलाड तथा घाटकोपर में खोली गई सामुदायिक रसोइयों से भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है।'

इसे भी पढ़ें: मुंबई में 'इंद्र' का कहर, अबतक 5 की मौत, जारी हुआ रेड अलर्ट

अधिकारी ने कहा, 'मुंबई में विभिन्न स्थानों पर इन सामुदायिक रसोइयों को इसलिए खोला गया है ताकि जहां तहां फंसे यात्रियों को राहत पहुंचाई जा सके। भारतीय नौसेना आपके लिए, कहीं भी कभी भी हर समय। उपलब्ध है।'

गौरतलब है कि कल मुंबई में हुई भारी बारिश के चलते फंसे मुंबईकरों के लिए पश्चिमी नौसेना कमान ने रूकने की व्यवस्था की थी।

प्रवक्ता ने कहा, 'पश्चिमी नौसेना कमान ने बारिश में फंसे यात्रियों के लिए कोलाबा, वर्ली और घाटकोपर में रुकने की व्यवस्था की है। ये शरणस्थल सागर इंस्टीट्यूट कोलाबा, आईएनएस त्राता वर्ली, आईएनएस हमला मार्वे और मैटेरियल ऑर्गेनाइजेशन घाटकोपर में उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।'

इसे भी पढ़ें: बारिश में डूबी मुंबई, स्कूल, कॉलेज और एयरपोर्ट सभी बंद

नौसेना ने कहा कि किसी भी घटना के मद्देनजर नौसेना के हैलिकॉप्टरों को स्टैंडबाई पर रखा गया है। बाढ़ बचाव दल और गोताखोर भी तैनाती के लिए तैयार हैं।

प्रवक्ता ने ट्वीट किया, 'सीकिंग 42 सी दिनरात तलाशी एवं बचाव के लिए तैयार है। मेडिकल दल और गोताखोर तत्काल तैनाती के लिए बिलकुल तैयार हैं।'

उन्होंने बताया कि मुंबई में विभिन्न स्थानों पर मदद देने के लिए पांच बाढ़ बचाव दल और गोताखोरों के दो दल पूरी तरह से तैयार हैं।

मुंबई में कल पूरे दिन भारी बारिश हुई थी और भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने आज भी भारी बारिश की चेतावनी दी है।

Next Story
Top