Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जानिए किसको मिली फांसी और किसे हुई उम्रकैद, ये है कोर्ट का पूरा फैसला

12 मार्च 1993 को धमाकों में 257 लोगों की मौत हो गई थी।

जानिए किसको मिली फांसी और किसे हुई उम्रकैद, ये है कोर्ट का पूरा फैसला

12 मार्च 1993 को मुंबई में हुए सीरियल बम धमाकों में आज गुरुवार को मुंबई की स्पेशल टाडा कोर्ट ने डॉन अबू सलेम और करीमुल्लाह शेख को उम्रकैद की सजा सुनाई है, जबकि ताहिर मर्चेंट को फांसी की सजा सुनाई है। सरकारी वकील उज्जवल निकम ने कहा कि सभी दोषियों को अलग-अलग सजा सुनाई गई है।

ये है कोर्ट का फैसला

1) अबू सलेम को उम्रक्रैद और 2 लाख का जुर्माना

2) करीमउल्ला शेख को उम्रक्रैद और 2 लाख का जुर्माना

3) रियाज सिद्दीकी को 10 साल की सजा

4) ताहिर मर्चेंट को फांसी की सजा

5) फिरोज अब्दुल राशिद खान को भी फांसी की सजा

ये है मामला

16 जून 2017 को कोर्ट ने इस केस में अबू सलेम, मुस्तफा दौसा, उसके भाई मोहम्मद दौसा, फिरोज अब्दुल राशिद खान, मर्चेंट ताहिर और करीमुल्लाह शेख को दोषी करार दिया था। जबकि इनमें से मुस्तफा दौसा की 28 जून को हार्टअटैक से मौत हो गई थी।

इसे भी पढ़ें: सलेम के बाद अब दाऊद को पकड़ना जरूरी

12 मार्च 1993 को धमाकों में 257 लोगों की मौत हो गई थी। इसके अलावा 713 लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। उस समय तकरीबन 27 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचा था। जिसके बाद 4 नवंबर 1993 को 10 हजार पन्नों की चार्जशीट दायर की गई थी।

अदालत ने साक्ष्यों के अभाव में आरोपी अब्दुल कयूम को छोड़ दिया। यह मुकदमे का दूसरा चरण था। इन सभी आरोपियों पर आपराधिक षडयंत्र, भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ना और हत्या के आरोप शामिल थे, जिसमे ये दोषी पाए गए।

आगे की स्लिड्स जानिए इस केस से जुड़ी बारीक से बारीक जानकारी...

Next Story
Share it
Top