Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुंबई ब्लास्ट: सुप्रीम कोर्ट ने दोषी ताहिर मर्चेंट की फांसी पर लगाई रोक

मुंबई में 12 मार्च, 1993 को 12 स्थानों पर बम विस्फोट हुए थे जिनमें 257 व्यक्ति मारे गये थे और 718 अन्य जख्मी हो गए थे।

मुंबई ब्लास्ट: सुप्रीम कोर्ट ने दोषी ताहिर मर्चेंट की फांसी पर लगाई रोक

मुंबई में 1993 में एक के बाद एक हुए विस्फोटों की घटना में मौत की सजा पाने वाले ताहिर मर्चेन्ट की सजा के अमल पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है।

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एमएम शांतानागौदर की तीन सदस्यीय खंडपीठ ने केन्द्रीय जांच ब्यूरो से छह सप्ताह के भीतर जवाब मांगने के साथ ही मुंबई में विशेष टाडा अदालत से इस मामले का सारा रिकार्ड भी मंगाया है।

इसे भी पढ़ें- पाकिस्तान की राजनीति से दुनिया में बवाल, परवेज मुशर्रफ ने आतंकी हाफिज की तरफ बढ़ाया हाथ

टाडा अदालत ने मर्चेन्ट, फीरोज अब्दुल राशिद खान को मौत की सजा और गैंगस्टर अबू सलेम को उम्र कैद की सजा सुनाई थी। मर्चेन्ट को इस मामले की सुनवाई के दूसरे चरण मे अन्य दोषियों के साथ दोषी ठहराया गया था क्योकि वह फरार था।

आपको बता दें कि मुंबई में 12 मार्च, 1993 को 12 स्थानों पर बम विस्फोट हुए थे जिनमें 257 व्यक्ति मारे गये थे और 718 अन्य जख्मी हो गए थे।

Share it
Top