Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुंबई हमले के संदिग्ध को पाक एजेंसी ने किया दोषमुक्त

संदिग्ध आतंकी पर वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने का आरोप था।

मुंबई हमले के संदिग्ध को पाक एजेंसी ने किया दोषमुक्त
नई दिल्ली. मुंबई आतंकी हमले में संलिप्तता को लेकर पिछले महीने लश्कर-ए-तैयबा के गिरफ्तार किए गए एक अहम आतंकी को पाकिस्तान की फेडरल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी ने दोषमुक्त कर दिया है। पाकिस्तान की एफआइए ने कहा कि सुफायान जफर के खिलाफ मुंबई हमले में संलिप्तता से संबंधित किसी भी तरह का सबूत नहीं मिला है। इस आतंकवादी पर 14,800 रुपए की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने का आरोप था।
सुफायान पर आरोप था कि उसने सह आरोपी जमील रियाज को पूर्व में अटैक के लिए 30 लाख 98 हजार रूपए मुहैया करवाए थे। अब एफआइए कह रही है कि उसे जफर के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिल पाया है।
एफआइए के एक अधिकारी ने बताया "जफर के खिलाफ जांच में कोई सबूत नहीं मिल पाया है। जफर पर आरोप था कि उसने मुंबई आतंकी हमले के संबंध में गिरफ्तार एक संदिग्ध को आतंकी मदद दी थी, लेकिन जांच के दौरान यह साबित नहीं हो पाया है। जफर की भूमिका इस जांच में सिद्ध नहीं हो पाई है।'
गौरतलब है कि मुंबई टेरर केस में अपराधी घोषित होने के बाद से ही जफर अंडरग्राउंड हो गया था। पिछले महीने की शुरूआत में जफर को खैबर पख्तूनवा के उसके ठिकाने से गिरफ्तार किया गया। पाकिस्तानी पंजाब के गुजरांवाला का रहने वाला जफर उन 21 भगोड़े संदिग्धों में से एक है जो इस हाईप्रोफाइल टेरर केस में वांटेड हैं।
भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, छह अन्य संदिग्ध अब्दुल वाजिद, मजहर इकबाल, हम्माद अमीन सादिक, शाहिद जमील रियाज, जमील अहमद और यूनुस अंजुम रावलपिंडी के अदियाला जेल में बंद हैं। जबकि प्रमुख आतंकी जकीउर रहमान लखवी जमानत मिलने के बाद से ही फरार है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top