Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दिल्ली-मुंबई के सरकारी अधिकारी घूस लेने में सबसे आगे: रिपोर्ट

देश के टॉप पांच शहरों में मुंबई में हैं सबसे ज्यादा रिश्वत लेने वाले अधिकारी

दिल्ली-मुंबई के सरकारी अधिकारी घूस लेने में सबसे आगे: रिपोर्ट
नई दिल्ली. देश में भ्रष्ट्राचार और घूस पर लगाम लगाने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें अपने लेवल पर सब कुछ कर रही हैं। लेकिन हाल ही में एक वेबसाइट ने रिश्वत लेने के मामले में एक बड़ा खुलासा किया है। इस वेबसाइट ने जो रिपोर्ट दी है उसमें भारत के पांच ऐसे शहर है जो नामी गिरामी है और सरकारी अधिकारी वो है जो सबसे ज्यादा भ्रष्ट और रिश्वतखोर है।
इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक IPaidABribe.com ने खुलासा किया है कि मुंबई में सरकारी अधिकारी सबसे ज्यादा रिश्वत मांगते है और भारत के प्रमुख शहरों में दिल्ली दूसरे नम्बर पर सबसे अधिक रिश्वत लेने वाले शहरों में है। इस डाटा में यह बात सामने आई है कि 2010 से 2015 के बीच रिश्‍वत लेने के मामले में दिल्‍ली के सरकारी कर्मचारी सबसे आगे हैं।
तो वही दूसरी तरफ मुंबई में रिश्‍वत लेने वाले टॉप- 5 विभागों में पुलिस (706), कस्‍टम्‍स, एक्‍साइज और सर्विस टैक्‍स (308), ट्रांसपोर्ट (165), स्‍टैंप और रजिस्‍ट्रेशन (119) और म्‍यूनिसिपल सेवाओं (110) शामिल हैं। वेबसाइट के डाटा के मुताबिक, मुंबई के कस्‍टम्‍स, एक्‍साइज और सर्विस टैक्‍स डिपार्टमेंट ने 2.41 करोड़ रुपए की रिश्‍वत ली है। और भ्रष्टाचार विरोधी वेबसाइट का संचालन बेंगलुरु के 'जनाग्रह' एनजीओ द्वारा किया जा रहा है।
बता दें कि वेबसाइट के मुताबिक 636 शहरों में कराए गए सर्वे के आधार पर 33 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। इसके बाद स्‍टैंप और रजिस्‍ट्रेशन का नंबर आता है, जिसमें 1.25 करोड़ रुपए रिश्‍वत दी गई। सिर्फ 2015 में ही, मुंबईकरों ने घूसखोरी के 262 वाकये रिपोर्ट किए हैं। आपको ये भी बता दें कि वेबसाइट के अनुसार, अगस्‍त 2010 से सितंबर 2016 के बीच देश के 1071 शहरों से घूसखोरी के 1.05 लाख से ज्‍यादा मामले सामने आए। इनमें दी गई घूस की रकम 2,800 करोड़ से भी ज्‍यादा है। भारत उन टॉप 29 बाजारों में 17वें स्‍थान पर हैं जो रिश्‍वतखोरी और भ्रष्‍टाचार को चुनौती मानते हैं।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top