Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सपा दंगल: दिल्ली स्थित मुलायम सिंह के आवास पर बैठक जारी, शिवपाल-अमर भी मौजूद

सपा प्रमुख चुनाव आयोग से मिलकर समाजवादी पार्टी पर ठोकेंगे अपना दावा।

सपा दंगल: दिल्ली स्थित मुलायम सिंह के आवास पर बैठक जारी, शिवपाल-अमर भी मौजूद
लखनऊ. समाजवादी पार्टी का कलह सुलझने के वजाय और गहराता जा रहा है शनिवार को अखिलेश गुट ने विधायकों सांसदों के समर्थन के हलफनामे चुनाव आयोग को सौंपे तो मुलायम भी शिवपाल के साथ दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं। रविवार को मुलायम सिंह यादव दिल्ली पहुंचे। दिल्ली स्थित मुलायम सिंह के आवास पर बैठक चल रही है। इस बैठक में शिवपाल सिंह यादव और अमर सिंह भी मौजूद हैं।
अगले महीने शुरू हो रहे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ने के वास्ते साइकिल निशान पर अपना दावा पुख्ता करने की कोशिश के तहत सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव अपने भाई शिवपाल के साथ आज दिल्ली के लिए रवाना हुए थे। मुलायम सिंह यादव पार्टी में सुलह का प्रयास कराने के लिए चार दिन लखनऊ में रहे। लेकिन फिर भी जब बात नहीं बनी तो उन्हें ये कदम उठाना पड़ा।
अखिलेश यादव को करारा जवाब
खबर है कि वे चुनाव आयोग से मिलकर सूबे के मुख्‍यमंत्री और पुत्र अखिलेश यादव को करारा जवाब देंगे। मुलायम सिंह यादव के साथ शिवपाल सिंह यादव अमौसी एयरपोर्ट से दिल्ली रवाना,इंडिगो की फ्लाइट 6E-147 से दोनों नेता रवाना हुए थे।
पार्टी में कोई विवाद नहीं
मुलायम सिंह यादव आज अपने आवास से निकलने के बाद पार्टी के कार्यालय गए। मुलायम सिंह यादव पार्टी कार्यालय कोई महत्वपूर्ण पेपर लेने गए थे। मुलायम सिंह यादव एयरपोर्ट जाने से पहले पार्टी ऑफिस में चलते चलते बोले पार्टी में कोई विवाद नहीं है। सारे विवाद निपटा लिए जायँगे। आज सुबह सबसे बात हुई है पार्टी में कोई विवाद नहीं है। मुलायम सिंह यादव के साथ शिवपाल सिंह यादव मौजूद थे। वहां पर कुछ लोगों से मुलाकात करने के बाद लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट से आज मुलायम सिंह यादव पूर्व मंत्री तथा पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव शिवपाल सिंह यादव के साथ दिल्ली रवाना हो गए हैं।
आपको बता दें कि कल तक यानी 9 जनवरी तक चुनाव आयोग ने अखिलेश यादव और सपा चीफ मुलायम सिंह यादव से चुनाव चिह्न और पार्टी को लेकर जवाब देने को कहा है।
हम असली सपा हैं
आपको बता दें कि शनिवार को आयोग से मिलकर अखिलेश गुट ने साइकिल चुनाव चिन्ह पर अपना दावा पेश किया। अखिलेश गुट के 1.5 लाख पन्नों के इन कागजातों में 200 से अधिक विधायकों, 68 विधान परिषद सदस्यों में से 56 विधान परिषद सदस्यों, 24 सांसदों में से 15 सांसदों तथा 5000 प्रतिनिधियों में से अखिलेश समर्थक करीब 4600 प्रतिनिधियों के हस्ताक्षर हैं। उन्होंने दस्तावेज सौंपने के बाद कहा, 90 फसदी जन प्रतिनिधि एवं प्रतिनिधि अखिलेश यादव के साथ हैं, अतएव यह बिल्कुल साफ है कि हम असली सपा हैं। हमें साइकिल निशान दिया जाना चाहिए और असली सपा समझा जाना चाहिए।
रामगोपाल का दावा
रामगोपाल ने दावा किया कि एक सेट मुलायम सिंह को उनके दिल्ली निवास पर भेजा गया, लेकिन उन्होंने पावती देने से इनकार कर दिया। मुलायम सिंह धड़ा सोमवार को अपने हलफनामों का सेट आयोग को सौंप सकता है। उधर, अमर सिंह व शिवपाल यादव ने मुलायम से मुलाकात की, जबकि आजम खां अब भी सुलह की कोशिश में जुटे हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top