Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दबाव में ''मुलायम'' पड़े चाचा-भतीजा, टिकट पर अखिलेश की चलेगी

मुलायम सिंह ने कहा, परिवार में कोई मतभेद नहीं है और मेरेे रहते पार्टी में कोई फूट नहीं पड़ सकती

दबाव में
लखनऊ. परिवार में मचे घमासान के बीच सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने 'डैमेज कंट्रोल' की कमान सम्भालते हुए शुक्रवार को कहा कि उनके परिवार में कोई मतभेद नहीं है और उनके रहते पार्टी में कोई फूट नहीं पड़ सकती। मुलायम ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का फैसला पलटते हुए भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरने के बाद बर्खास्त किए गए खनन मंत्री के खिलाफ हुई कार्रवाई वापस लेने का ऐलान करते हुए विश्वास जताया कि अखिलेश उनकी बात को नहीं काटेंगे।
मुख्यमंत्री अखिलेश और वरिष्ठ काबीना मंत्री शिवपाल यादव के बीच पिछले पांच दिन से चल रही वर्चस्व की जंग के बीच शुक्रवार सुबह इन दोनों से ही मुलाकात करने वाले मुलायम ने बाद में पार्टी राज्य मुख्यालय पर जमा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी में कोई मतभेद नहीं है। मीडिया ने इसे बड़ा रूप दिया है। उन्होंने कहा कि हमारे रहते पार्टी में कोई फूट नहीं हो सकती। हमने आपसे इतना संघर्ष कराकर सरकार बनाई है। बहुत सी शक्तियां हैं जो नहीं चाहती, कि हमारे परिवार में एकता रहे। इतने बड़े परिवार में कभी-कभी कुछ देर के लिए मतभेद हो जाया करते हैं, मगर अखिलेश और शिवपाल के बीच कोई झगड़ा नहीं है।
हालांकि टिकट वितरण में अखिलेश की ही चलेगी। मुलायम ने इस दौरान अपने पास ही खड़े अपने करीबी और पिछले दिनों मुख्यमंत्री द्वारा खनन मंत्री के पद से बर्खास्त किए गए गायत्री प्रसाद प्रजापति की बर्खास्तगी रद्द करने का ऐलान किया और विश्वास जताया कि अखिलेश उनकी बात नहीं टालेंगे।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top